Neemuch News : सिंगोली क्षेत्र में सौर उर्जा प्लांट स्थापित होने से पूर्व किसानों का कड़ा विरोध

27 सितंबर को इन सभी गांव के किसान राज कुमार के नेर्तव्य में नीमच कलेक्टर को ज्ञापन देंगे।

नीमच, कमलेश सारडा। नीमच (Neemuch ) के सिंगोली (Singoli) में सौर ऊर्जा प्लांट (solar power plant) स्थापित होने के पहले ही किसानों ने अपना विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर को अपनी पीड़ा बताते हुए सिंगोली तहसील के ग्राम बड़ी में आसपास के 8 गांव के खातेदार किसानों ने कहा कि साहब हम हमारी जान देंगे परन्तु हमारी बाप दादाओं के खून पसीने से सींची हुई जमीन का टुकड़ा सौर ऊर्जा प्लांट हेतु नही देंगे। हम लोगों को विधायक सखलेचा द्वारा पक्का आश्वासन दिया था कि मैं आपकी एक इंच जमीन को सौर ऊर्जा प्लान में नहीं जाने दूंगा। साहब हमने भरोसा किया लेकिन आज हमारे साथ बड़ा विश्वासघात हो गया हमको सरकार ने जमीन खाली करने का नोटिस थमा दिया है।

यह भी पढ़ें…MP में किसानों के लिए ये बड़ी योजना, गुरूवार को CM Shivraj करेंगे शुभारंभ

किसानों की पीड़ा को सुनकर कांग्रेस नेता अहीर ने किसानों को बताया कि मंगलवार को खंडवा के पंधावा में प्रदेश का मुखिया शिवराज सिंह ने कहा था कि प्रदेश में अब कोई भी गरीब बिना जमीन के नहीं रहेगा और इधर किसानों की पुश्तेनी जमीनों को हड़पने का काम किया जा रहा है । यह किसानों के साथ घोर अन्याय है कांग्रेस किसानों के साथ है। अहीर ने आगे यह भी बताया कि विधायक सखलेचा ने को किसान को गुमराह किया पहले बोला कि वो किसानो की एक इंच जमीन भी नहीं जाने देंगे जबकि आज कई किसानों को नोटिस थमा दिए और बदले में चंद रुपये के मुवावजे का लालच देकर किसानों को भूमिविहीन कर किसानों के हाथों में भीख मांगने के लिए कटोरा थमाने का काम ओमप्रकाश सखलेचा करने जा रहा है। यह खुद उद्योगपति होकर यहां स्थापित होने वाले प्लांटों में इसकी पार्टनरशिप होने जा रही है। तभी यह आपको बेवक़ूफ़ बनाकर आपकी खाते की जमीन को ओने-पोने दामों से मुवावजा दिलाकर हड़पने का काम चल रहा ।

युवाओं को रोजगार दिलाने के नाम से पहले भी डीकेन के भगवान पूरा में सौर ऊर्जा प्लांट स्थापित किया, लेकिन एक भी जावद विधान सभा क्षेत्र के युवाओं को रोजगार नहीं दिया उक्त प्लांट में नोयडा दिल्ली के लोगों को बुलाकर उन्हें रोजगार से जोड़ा गया ।भाजपा की कथनी और करनी में यही अंतर होता है।

किसानों का विरोध पर एक नजर
नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग भोपाल द्वारा नीमच जिला कलेक्टर को आवेदन देकर सिंगोली तहसील क्षेत्र में 1700 हेक्टेयर भूमि की मांग कि गई है। प्रशासन द्वारा भूमि आवंटन की मांग की प्रक्रिया शुरू करते ही एक फिर ग्रामीणों ने कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर के नेर्तव्य में विरोध बुलंद कर दिया साथ ही ग्रामीणों ने चेतावनी भी दी है कि अब अगर भूमि आवंटन प्रक्रिया को नही रोका ओर पूर्व की तरह हठधर्मिता अपनाई गई तो हम हमारी जान भी न्योछावर कर देंगे परन्तु जमीन का एक इंच का टुकड़ा नही जाने देंगे। किसानों ने यह भी बताया कि सिंगोली तहसील के जिस क्षेत्र में भूमि की मांग की गई है उस क्षेत्र के कृषि और पशु पालन के अलावा आजीविका का कोई साधन नहीं है। प्राचीन समय से पीढ़ी दरपीढ़ी लोग यहां खेती कर अपने परिवारों का पोषण करते रहे है । वर्षो से काबिज लोगो ने बंजर भूमि को उपजाऊ बनाया है , सिचाई के संसाधन स्थापित किये ऐसे में पर्यावरण को नष्ट कर हजारो परिवारों को बेरोजगार किया जाना न्यायोचित नही होगा।

इन गांव के किसानों को भूमिविहीन किया जा रहा
बतादें कि बरडावदा, बनेडिया, गोविंदपुरा, खेड़ा मौका का ढोल, बड़ी, ख़्वाई, धनगांव ओर चक सोडिजर आदि एवं इन गांवों के किसानों ने आज किसान नेता राजकुमारअहीर को अपनी पीड़ा व्यक्त की और आगामी 27 सितंबर को इन सभी गांव के किसान राज कुमार के नेर्तव्य में नीमच कलेक्टर को ज्ञापन देंगे।

Neemuch News : सिंगोली क्षेत्र में सौर उर्जा प्लांट स्थापित होने से पूर्व किसानों का कड़ा विरोध Neemuch News : सिंगोली क्षेत्र में सौर उर्जा प्लांट स्थापित होने से पूर्व किसानों का कड़ा विरोध

यह भी पढ़ें… इंदौर लोकायुक्त पुलिस की कार्रवाई, एजेंट को रिश्वत लेते रंगे हांथों पकड़ा, SDM, बाबू सहित 3 पर मामला दर्ज