सिंगोली में NDPS के फरार घोषित दो आरोपी घूम रहे खुलेआम, फिर भी नहीं हो रही कार्रवाई

सिंगोली हमेशा से सुर्खियों में रहा है। इसी कड़ी में एक बार फिर से सुर्खियों में है। इस बार मामला एनडीपीएस के फरार आरोपियों का है जो कि सरे आम खुले घूमकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे है। पढ़ें विस्तार से...

नीमच, कमलेश सारडा | मध्य प्रदेश के नीमच जिले का सिंगोली हमेशा से सुर्खियों में रहा है। इसी कड़ी में एक बार फिर से सुर्खियों में है। इस बार मामला एनडीपीएस के फरार आरोपियों का है जो कि सरे आम खुले घूमकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे है। आखिर स्थानीय फरार आरोपियों को सिंगोली पुलिस कैसे नही पकड़ पा रही है यह बात स्थानीय लोगों हजम नही हो रही है।

यह भी पढ़ें – 80 करोड़ी की लॉटरी जीतने के बाद अब इस शख्स को है सच्चे प्यार की तलाश 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस थाना सिंगोली में दर्ज एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण में पुलिस द्वारा दर्ज अपराध क्रमांक 137/2021 पर एनडीपीएस की धारा 8/15, 25 एवं 29 के तहत प्रकरण में सात को आरोपी बनाया गया। जिनमें से 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया जबकि 2 स्थानीय आरोपियों को पुलिस ने फरार घोषित कर इनके विरुद्ध धारा 173(8) जा.फी. के तहत विवेचना जारी रखते हुए चालान क्रमांक 142/2021 बीते 31 अक्टूबर को न्यायालय में
पेश किया।

यह भी पढ़ें – किन्नर को प्रेमी ने लगाई 13 लाख की चपत, 8 साल के लिव-इन रिलेशन में दिया धोखा

वहीं, पुलिस द्वारा उस समय फरार घोषित किए गए सिंगोली निवासी दोनों आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गआ है जो पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर रहे हैं। आखिर सिंगोली के ही रहने वाले उक्त दोनों आरोपियों को बीते एक वर्ष में भी पकड़ा नही जाना वहां के थाना प्रभारी की अक्षमता को दर्शाता है। जहां एक ओर सिंगोली थाने के मुखबिर तंत्र द्वारा एनडीपीएस की हर छोटी बड़ी मूवमेंट्स को सिंगोली थाना टीम बड़ी ही सफलता के साथ अंजाम देती है तो ऐसा कैसे संभव है कि फरार आरोपियों का इनपुट पुलिस को नही मिल पा रहा है।

यह भी पढ़ें – कलेक्टर को हाई कोर्ट का नोटिस, किसानों को जुर्माना देने के निर्देश, ये है मामला

इस मामले को लेकर सिंगोली थाना प्रभारी ने बताया कि, “मामला अभी अंडर इन्वेस्टिगेशन है। अभी एविडेंस जुटाए जा रहे और अभी गिरफ्तारी नही हुई है।”

यह भी पढ़ें – रीवा जिले में एक्शन मोड में RTO, दस्तावेज नहीं मिलने पर 9 एंबुलेंस वाहनों पर हुई चालानी कार्रवाई