युवक ने की आत्महत्या, परिजनों ने लगाए पुलिस पर प्रताड़ना के आरोप, थाने के सामने मुख्य मार्ग पर शव रखकर प्रदर्शन

उपचार के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव का पीएम करा कर सुबह परिजनों को सौंपा। जिसके बाद मृतक के भाई राजू बागड़ी, बंटी, दिनेश सहित परिजनों द्वारा मनासा थाने के सामने शव रखकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया ।

नीमच, कमलेश सारडा। जिले के मनासा नगर में पुलिस कॉलोनी के पीछे एक युवक ने आत्महत्या कर ली। घटना के बाद परिजनों ने पुलिस पर प्रताड़ना के आरोप लगाए और कहा कि पुलिस आए दिन युवक को थाने बुलाकर मारपीट करती थी और प्रताड़ित किया जा रहा था जिसके चलते पिछले कई महीनों से युवक परेशान था और आज उसने रात्रि में आत्महत्या कर ली। घटना के बाद फिलहाल परिजन पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर शव को थाने के सामने मुख्य मार्ग पर रखकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार रात्रि में दशरथ उर्फ बबलू बागड़ी उम्र लगभग 20 वर्ष को गंभीर हालत में मनासा अस्पताल लाया गया था जहां से नीमच जिला चिकित्सालय रेफर किया गया था जहां उपचार के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव का पीएम करा कर सुबह परिजनों को सौंपा। जिसके बाद मृतक के भाई राजू बागड़ी, बंटी, दिनेश सहित परिजनों द्वारा मनासा थाने के सामने शव रखकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें – Dabra News : बदहाल कृषि उपज मंडी, व्यापारी-आढ़तिये कर रहे मनमानी, किसान नेत्री ने लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंदू जागरण मंच के जिला संयोजक मंगल ग्वाला, कांग्रेस के नेता सुरेश धनगर, चंद्रशेखर पालीवाल, दिनेश राठौर , मनीष पोरवाल सहित भारी संख्या में लोगों की भीड है। लगभग 1 घंटे से थाने के सामने मुख्य मार्ग पर शव रखकर परिजनों द्वारा विरोध प्रदर्शन करते हुए दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही की मांग की जा रही है।

ये भी पढ़ें – Mandi Bhav: इंदौर में अनाज का सटीक दाम, देखें 31 अक्टूबर 2022 का मंडी भाव