तहसीलदार ने खाद की प्राइवेट दुकानों का किया औचक निरीक्षण, तीन दुकानें सील

निवाड़ी, मयंक दुबे। खाद (fertilizer) की कमी की ख़बरों के बीच जहाँ सरकार दावा कर रही है कि खाद की कमी नहीं है वहीं किसान अभी भी परेशान हैं।  इसका फायदा उठाते हुए दुकानदार न सिर्फ स्टॉक कर रहे हैं बल्कि ब्लैक में भी खाद बेच रहे हैं। पृथ्वीपुर तहसीलदार ने प्राइवेट खाद दुकानों (private fertilizer shops)  का औचक निरीक्षण किया और अनियमितता मिलने पर तीन दुकानों को सील कर दिया।

तहसीलदार ने खाद की प्राइवेट दुकानों का किया औचक निरीक्षण, तीन दुकानें सील

निवाड़ी जिले में खाद को लेकर हो रहे किसानों के जाम व त्राहि त्राहि के बीच देर रात प्रशासन जागा। पृथ्वीपुर तहसीलदार मनीष जैन ने कृषि विभाग के अधिकारियों की टीम के साथ प्राइवेट खाद की दुकानों पर औचक निरीक्षण किया। औचक निरीक्षण के बाद नैगुवा में खाद की तीन दुकानों को किया सील कर दिया उन्होंने बताया कि यहाँ महंगे दामों खाद में बेचा जा रहा था। वही पृथ्वीपुर में महेंद्र ट्रेडिंग कंपनी के यहां जानकारी छुपाए जाने पर तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार ने  दुकानदार को जमकर फटकार लगाई।

ये भी पढ़ें – भीड़ भरे बाजार में तीन महिलाओं ने बैग से चोरी किये 2 लाख, घटना CCTV में कैद

गौरतलब है कि पृथ्वीपुर में लगातार किसान खाद की किल्लत से जूझ रहे हैं और खाद की समस्या बनी हुई और किसानों को खाद नसीब नहीं हो रहा है ऐसे में किसानों की बोनी का समय निकल रहा है और फसलें बर्बाद हो रही हैं तो वही खाद माफियाओं के द्वारा अधिकारियों की मिलीभगत से खाद ब्लैक कर ऊंचे दामों में बेचा जा रहा है जिसको लेकर किसानों के द्वारा लगातार हंगामा करते हुए चक्का जाम और प्रदर्शन कर रहे थे।

ये भी पढ़ें – MP के इन अधिकारियों-कर्मचारियों को बड़ा झटका, रोका जाएगा वेतन, जानें क्यों?

किसानों के विरोध के बाद जिला प्रशासन ने मामले को संज्ञान में लिया और देर रात पृथ्वीपुर तहसीलदार मनीष जैन ने कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ खाद की प्राइवेट दुकानों पर जाकर खाद का स्टॉक चेक कर औचक निरीक्षण किया जिस पर पृथ्वीपुर के नेगुवा में खाद को महंगे दामों में बेचे जाने पर तीन दुकानों को सील करने की कार्रवाई की गई।

ये भी पढ़ें – ट्रैफिक जाम में फंसी गर्भवती तो फरिश्ता बनकर आई दाई मां, ऑटो में बेटे को दिया जन्म

इस दौरान पृथ्वीपुर में कई दुकानों पर जाकर खाद का स्टॉक चेक किया तो वहीं महेंद्र ट्रेडिंग कंपनी के यहां पहुंचे तहसीलदार से जानकारी छुपाए जाने पर पर तहसीलदार और नायब तहसीलदार भड़क गए जिस पर खाद के होलसेल विक्रेता महेंद्र जैन को जमकर फटकार लगाई।  तहसीलदार ने फटकार लगाते हुए कहा की आप लोगों की चोरी हम लोगों पर बहुत भारी पड़ रही है।

इन सब बातों से यह तो साफ जाहिर है की पृथ्वीपुर में व्यापक पैमाने पर खाद की कालाबाजारी की जा रही है और सोसाइटीओ की बजाए खाद को बड़े-बड़े व्यापारियों के यहां भेज कर कालाबाजारी की हो रही है और किसान परेशान है।