भ्रष्टाचार करने वाले तत्कालीन CMO और सब-इंजीनियर गिरफ्तार

आवास योजना में अनुमति देने के नाम पर किया था भ्रष्टाचार, ईओडब्ल्यू की कार्रवाई से जिले में मचा हड़कंप

निवाड़ी, डेस्क रिपोर्ट। आवास योजना में अनुमति देने के नाम पर भ्रष्टाचार करने वाले निवाड़ी जिले के दो तत्कालीन सीएमओ और दो तत्कालीन उपयंत्रियों को गिरफ्तार किया है। इनके भ्रष्टाचार के खिलाफ पीड़ितों ने आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ में शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत के बाद चली जांच में यह दोषी पाए गए, जिसके बाद इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया।

यह भी पढ़ें… बिजली गुल होते ही CM शिवराज ने आखिर ऐसा क्या कहा- कि ठहाके मारकर हँसे अधिकारी

मामला निवाड़ी जिले के नगर परिषद जेरोनखालसा  का है। ईओडब्ल्यू की टीम ने उमाशंकर पिता रतनलाल मिश्रा संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास सागर संभाग, नवाब सिंह पिता मगन सिंह राजस्व उपनिरीक्षक नगर परिषद जेरोन खालसा जिला निवाड़ी, सृजन पिता राकेश कुमार गुप्ता नगर परिषद बंड़गांव जिला टीकमगढ़ और अभिषेक पिता जगदीश सिंह राजपूत उपयंत्री नगर पालिका परिषद दमोह को गिरफ्तार किया है। इन चारों पर प्रधानमंत्री आवास योजना अनुमति में भ्रष्टाचार करने का आरोप है। अपराध की विवेचना के दौरान जांच अधिकारी निरीक्षक स्वर्णजीत सिंह धामी ने गुरूवार को आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार चारों आरोपियों ने संयुक्त संचालक से परिजनों को गिरफ्तारी की सूचना देने की मांग की है। गिरफ्तार तत्कालीन सीएमओ और उपयंत्रियों को आज टीकमगढ़ जिला न्यायालय में पेश किया जाएगा। सूत्रों की माने तो योजना में भ्रष्टाचार को लेकर ईओडब्ल्यू इन चारों से सख्ती से पूछताछ भी कर सकती है, जिनसे और भी खुलासे होने की संभावना है। बहरहाल जिले में ईओडब्ल्यू की कार्रवाई से जिले में हड़कंप मचा हुआ है।