Niwari News : सेवा भाव का बेहतरीन उदाहरण- जनता के बीच पहुंचे कलेक्टर, लोगों से मांगी माफी, जानें कारण

निवाड़ी कलेक्टर द्वारा एक बेहतरीन उदाहरण पेश किया गया है। सेवा भाव से लोगों की समस्याएं सुनने के साथ ही उन्होंने बड़ी विनम्रता से अधिकारियों की गलती के लिए लोगों से माफी मांगी है। इसके साथ ही उन्होंने जल्द से जल्द समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिए हैं।

Niwari Collector Apologized : निवाड़ी जिले के कलेक्टर अरुण विश्वकर्मा डिंडोरी कलेक्टर की तर्ज पर काम करने में जुटे हुए हैं। रोज लोगों से मुलाकात और उनकी समस्याओं के प्रति सजगता उनकी दिनचर्या बन गई है। गौरतलब है कि इसके पूर्व निवाड़ी कलेक्टर तरुण भटनागर को कलेक्टर ने मंच से हटाया था और डिंडोरी कलेक्टर की तारीफ की थी। अरुण भी डिंडोरी से निवाड़ी आए हैं।

अधिकारी को फोन पर दी समझाइश

इधर जब बुधवार सुबह निवाड़ी कलेक्टर नगर भ्रमण पर निकले तब कलेक्टर अरूण विश्वकर्मा को लोगों ने समस्याएं गिना दी। हालांकि कलेक्टर लोगों की समस्या सुनने के लिए ही निकले थे, लेकिन एक युवक ने कलेक्ट्रेट कार्यालय में कई महीनों से पेशी नहीं होने की शिकायत कर दी। इस पर कलेक्टर ने माफी मांगते हुए सम्बंधित अधिकारी को फोन पर समझाइश भी दी।

लोगों के बीच पहुंच कलेक्टर ने जानी समस्या 

निवाड़ी कलेक्टर अरूण कुमार विश्वकर्मा आज सुबह-सुबह शहर में भ्रमण पर निकले थें। इस दौरान कुछ लोग ठंड के चलते आग जला कर बैठे हुए थे। इस समूह में बैठे लोगों के बीच कलेक्टर पहुंचे और उनसे समस्याओं के बारे में जानकारी लेना चाही। इसी दौरान एक व्यक्ति ने कहा कि कलेक्ट्रेट कार्यालय में हमारी पेशी का आवेदन कई महीनों से लगा हुआ है और 6 महीने से उनकी पेशी नहीं हुई है।

अधिकारियों की गलती पर लोगों से मांगी माफी

लोगों की शिकायत सुनते ही कलेक्टर ने तुरंत संबंधित अधिकारी को फोन करते हुए कहा कि उनकी पेशी नियम अनुसार सूचीबद्ध करें और उसी आधार पर पेशी शुरू की जाएंगी। इस दौरान कलेक्टर ने संबंधित व्यक्ति से विनम्रता पूर्वक कहा कि मैं आप लोगों से माफी मांगता हूं। अगली बार आपकी पेशी नियमानुसार होगी और सम्बंधित विभाग का अधिकारी आपकी पेशी करेगा।- निवाड़ी से मयंक दुबे की रिपोर्ट