Video : मंत्री जी ने किसान के पैरों पर सिर रखकर मांगी माफी, जानिये कारण

निवाड़ी, डेस्क रिपोर्ट। MP के ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर (Energy Minister Pradyuman Singh Tomar) की दरियादिली से सभी वाकिफ है। ये अपने अलग अंदाज के लिए भी जाने जाते हैं। मंत्रीजी कभी कचरा साफ करने के लिए नाली में उतर जाते हैं तो कभी टॉयलेट साफ करते दिखते हैं। एक बार फिर निवाड़ी में उनका अलग अंदाज देखने को मिला जहां उन्होने एक किसान के पैरों पर सिर रखकर माफी मांगी।

दरअसल प्रद्युम्न सिंह तोमर निवाड़ी जिले के देवेंद्र पुरा गांव सब स्टेशन के ई लोकार्पण के लिए पहुंचे थे। यहां उन्होने स्थानीय लोगों से बात की और इसी दौरान एक बुजुर्ग किसान ने शिकायत की कि एक विद्युत अधिकारी ने उनसे ट्रांसफार्मर रखने के एवज में 10 हजार रुपये लिए थे। मंत्री तोमर ने बुजुर्ग किसान की बात को गंभीरता से सुना और इसके बाद खुद शिकायतकर्ता किसान प्रहलाद अहिरवार के पैरों पर सिर रखकर माफी मांगी। उन्होने  विश्वास दिलाया कि आपको विद्युत सुविधा उपलब्ध कराई जाएंगी और ऐसे कृत्य करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कठोर विभागीय एवं पुलिस कार्रवाई होगी।

ऊर्जा मंत्री ने सोमवार को इस शिकायत पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध जाँच कर प्रशासनिक एवं पुलिस कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। बता दें कि किसान ने शिकायत की थी कि 2 साल पहले जला हुआ ट्रांसफार्मर बदलने के लिए उनसे 10 हजार रुपये लिये गए थे। इसपर ऊर्जा मंत्री ने खुद पैर छूकर माफी मांगते हुए कहा कि ऐसे कृत्य बर्दाश्त नहीं किये जायेंगे। ऊर्जा मंत्री श्री तोमर निवाड़ी में विद्युत उपकेन्द्र देवेन्द्रपुरा के लोकार्पण कार्यक्रम में पहुंचे थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा झिरन्या, खरगोन से प्रदेश के 16 विद्युत उपकेन्द्रों का वर्चुअल लोकार्पण और 13 उपकेन्द्रों का भूमि-पूजन किया गया। इन कार्यों की कुल लागत 321 करोड़ 80 लाख रूपये है।

इस अवसर पर मंत्री तोमर ने कहा कि इन उपकेंद्रों से विद्युत उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण एवं निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित होगी। उन्होने कहा कि सभी विद्युत वितरण कंपनियों का लक्ष्य उपभोक्ता की संतुष्टि है। साथ ही आश्वस्त किया कि जले हुए ट्रांसफार्मर समय पर बदले जायेंगे। मंत्री तोमर ने कहा कि विद्युत उपभोक्ता बिजली का बिल समय पर जमा करें। उन्होंने कहा कि आउटसोर्स कर्मचारी अच्छा काम कर रहे हैं। उनकी माँगों पर सहानुभूति-पूर्वक विचार किया जायेगा। इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री ग्राम असाठी भी पहुंचे और लोगों से उनकी परेशानियां जानी। उन्होने युवाओं से चर्चा की और विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि निवाड़ी जिले के ग्रामीण क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था में कोई कसर न रहे।