जब पुलिस का ही स्निफर डॉग चुराकर ले गए रसूखदार- हुआ बरामद

निवाड़ी, डेस्क रिपोर्ट।  लोगों के घरों में हुई चोरिया और विस्फोटक सामग्री तलाशने वाले पुलिस के स्निफर डॉग को ही चोर चुरा कर ले गए, मामला निवाड़ी के ओरछा का है, यहाँ  पुलिस के स्निफर डाग को ही कुछ लोग चुरा ले गए। हालांकि पुलिस ने इस मामले को दबाए रखा और अपने स्तर पर तलाश करते रहे लेकिन जब डॉग का कुछ पता नहीं चला तो फिर आसपास के इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फूटेज के लिए जब पुलिस ने लोगों से संपर्क किया तो घटना का पता चला, हालांकि डॉग को पुलिस ने चिरगांव झांसी के बाहुबलियों के यहां से बरामद कर लिया है।  वही अफसरों ने डाग के मास्टर को निलंबित कर दिया है। डॉग मास्टर ने डॉग के कही भाग जाने की जानकारी अधिकारियों को दी थी।

यह भी पढ़ें… MP News : छात्रों को मिली बड़ी राहत, इस तरह होंगे प्रवेश, मेरिट लिस्ट पर तैयार होगी सूची

बताया जा रहा है कि निवाड़ी के ओरछा में पर्यटकों की ज्यादा आवाजाही के चलते स्निफर डॉग रखा है, यह डॉग लेब्रा प्रजाति का है।  19 अप्रैल को डाग के मास्टर जमना प्रसाद अहिरवार ने अधिकारियों को जानकारी दी कि वह डॉग को घुमाने के लिए रामराजा मंदिर के पास ले गया था। इसके बाद रात 11.30 बजे के करीब मंदिर के पास से बारात गुजर रही थी। बारात में डीजे व आतिशबाजी चल रही थी। इसी दौरान जमना प्रसाद के हाथ से डॉग छूट गया और वह डीजे व पटाखों से डरकर भाग गया। इसके बाद डाग का पता नहीं चला।

यह भी पढ़ें… गुना: बायपास पर आमने-सामने टकराईं बाइक, पुलिस आरक्षक सहित दो युवकों की मौत

लेकिन वही जब सीसीटीवी फूटेज चे किए गए तो उन फूटेज में डॉग को कुछ लोग पकड़कर ले जाते दिख रहे है, फूटेज से पता चला कि कुछ लोग डाग को स्कार्पियो वाहन से लेकर गए हैं। डॉग के घूमने के मामलें में गंभीरता दिखाते हुए पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज की और तुरंत स्निफर डॉग को तलाशना शुरू किया जिसके बाद इसके बाद तकरीबन 24 घंटे की तलाश के बाद पता चला कि जो लोग डॉग को ले गए हैं वे चिरगांव झांसी के हैं। इसके बाद पुलिस चिरगांव पहुंची और डॉग को ले आई। बताया जाता है कि डॉग ले जाने वाले क्षेत्र के रसूखदार लोग है फिलहाल पुलिस ने डॉग ले जाने वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया है या नहीं यह पुलिस ने साफ नहीं किया।