चाचा के साथ घूमकर आया डेढ़ साल का भतीजा जीप रिवर्स लेते समय पहिए के नीचे दबा, मौत

बच्चे के चाचा उसे जीप से घुमाने ले गए थे। लौटे तो बच्चे को गेट पर छोड़कर जीप रिवर्स करने लगे, तभी बच्चा चपेट में आ गया।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में एक छोटी सी चूक की वजह से डेढ़ साल के मासूम बच्चे की जान चली गई। हादसा जिस वक्त हुआ उस वक्त मासूम घर के गेट पर खड़ा था और उसके चाचा अपने चार पहिया वाहन को रिवर्स (reverse) ले रहे थे। जिसके बाद मासूम की मौत उसी के चाचा की जीप से कुचलने से हो गई।

ये भी देखें- स्वच्छता गीत का वीडियो जारी, अब लोगों को सुनाई दे रही है “डोर टू डोर” ये धुन

बताया जा रहा है कि चाचा जीप से बच्चे को घुमाने ले गए थे और जब दोनों घर लौटे तो चाचा ने बच्चे को गेट पर छोड़कर जीप रिवर्स किया इस दौरान बच्चा जीप की चपेट आ गया। बच्चे की चीख सुनकर परिवार वाले दौड़कर बाहर आए और बच्चे को उठाया फिर तुरंत डॉक्टर के पास ले गए लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इस पूरे मामले में तिलक नगर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक डेढ़ साल का लविश तीन बहनों के बाद पैदा हुआ था और बड़ी मान-मन्नत के बाद लविश ने जन्म लिया था। वो पूरे परिवार का लाड़ला था। वही अचानक हुए हादसे के बाद पूरा परिवार गमगीन हो गया है।

अचानक हुआ ये हादसा इंदौर के तिलक नगर थाना क्षेत्र के महावीर तोतला नगर का है। जहां रहने वाले मुकेश कुमावत के छोटे भाई मनोज कुमावत अपनी में जीप अपने डेढ़ वर्षीय भतीजे लविश को घुमाने ले गए थे। घर लौटने पर उन्होंने लविश को गेट पर छोड़ दिया और जीप रिवर्स लेते वक्त मासूम पहिए के नीचे आ गया। जिसकी चीख सुनकर परिवार वाले और लविश को इलाज के लिए निजी अस्पताल लेकर गए लेकिन तब तक मासूम दम तोड़ चुका था। तिलक नगर पुलिस के जांच अधिकारी पीएस मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने मर्ग कायम कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं हादसे के सामने आने के बाद पूरे क्षेत्र में सन्नाटा पसर गया है। वहीं कुमावत परिवार सदमे में है।