लोकायुक्त का एक्शन, 25 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ाया पटवारी

पन्ना, नीलू शर्मा। कोरोना संकट के बीच रिश्वतखोरी का खेल भी जारी है। सागर लोकायुक्त की टीम ने पन्ना के पवई में एक पटवारी को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। रिश्वत की रकम अतिक्रमण के एक मामले को रफा-दफा करने के लिए ली जा रही थी।

जानकारी के मुताबिक जिले के पवई हल्का के पटवारी राजेंद्र सोनी को सागर लोकायुक्त की टीम ने 25000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। पवई निवासी विकास जैन द्वारा लोकायुक्त सागर में शिकायत की गई थी जिसमें बताया गया कि पवई बस स्टैण्ड के समीप उसके द्वारा बाउण्ड्रीवॉल निर्माण कराने पर राजस्व विभाग द्वारा उसके खिलाफ अतिक्रमण का केस बनाया गया था। तहसीलदार न्यायालय में विचाराधीन इस केस को खारिज करने के एवज में पटवारी राजेंद्र सोनी द्वारा एक लाख रुपये की मांग की जा रही थी।

लोकायुक्त इस शिकायत की तस्दीक के बाद बुधवार को कार्रवाई की। रिश्वत की प्रथम किश्त के रूप में 25 हजार रुपये की राशि विकास जैन द्वारा पटवारी आवास में पहुंच राजेन्द्र सोनी को दी गई। तभी लोकायुक्त पुलिस की टीम ने दबिश देकर उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। हालांकि पटवारी का इन आरोपों को निराधार बताते हुए कहना है कि वो चंदे की राशि ले रहे थे। इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया और कार्यवाही की भनक लगते ही बड़ी संख्या में स्थानीय लोग पटवारी के शासकीय आवास के बाहर जमा हो गए थे।