Panna News: नाबालिग लड़की की खरीदी-बिक्री करने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश, आरोपियों में 1 महिला सहित नाबालिग भी शामिल

आरोपियों(Criminal) ने सहेली के साथ मिलकर नाबालिग को अच्छे घर में शादी (Marriage) का झांसा देकर अपहरण(kidnap) किया। अपहरण के बाद ले जाकर उत्तर प्रदेश में बेच दिया।

पन्ना,भारत सिंह यादव। पन्ना पुलिस(Panna Police) ने नाबालिग लड़की की खरीदी बिक्री एवं मानव दुर्व्यापार कर दास बनाकर रखने वाले अन्तर्राज्यीय (Inter-State) गिरोह का पर्दाफाश किया है। गिरोह में शामिल लोगों में से पुलिस ने 1 महिला सहित कुल 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही मामले मे 1 नाबालिग भी शामिल है।

ये भी पढ़े-Jabalapur News: नकली खाद्य अधिकारी बनकर बाजार में व्यापारियों से कर रहे वसूली

17 फरवरी 2021 को नाबालिग के परिजनों ने थाना देवेन्द्रनगर मे रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। उन्होंने पुलिस को बताया था कि नाबालिग घर से गुनौर जाने का कहकर गई थी। लेकिन, वापस नहीं आई किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा भगा ले जाने की आशंका की रिपोर्ट पर थाना देवेन्द्रनगर मे अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपहरण का मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद देवेन्द्रनगर पुलिस ने मामला विवेचना में लिया था।

टीम गठित कर की गई कार्यवाही
उक्त प्रकरण को पुलिस अधीक्षक पन्ना श्री धर्मराज मीना ने गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में 2 टीमों को गठित किया । टीम में अति. पुलिस अधीक्षक पन्ना श्री बी. के. एस परिहार एवं एसडीओपी पन्ना श्री अजय बाघमारे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी देवेन्द्रनगर निरीक्षक रहे। पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा दिए गए निर्देशो का पालन करते हुए गठित टीमों ने अपहृता एवं आरोपियों की तलास पतारसी संभावित स्थानो पर की । साथ ही पुलिस टीमों द्वारा अपहृता की तलाश एवं आरोपियों की पतारसी हेतु सायबर सेल पन्ना से जानकारी प्राप्त की। सायबर सेल पन्ना एवं मुखबिर द्वारा पुलिस टीम को अपहृता के शिवपुरी जिले में होने की जानकारी मिली।

ये भी पढ़े-Panna News: एक बाघिन के कुनबे से गुलजार हुआ अकोला बफर, बाघों का दीदार करने बड़ी संख्या में पहुंच रहे पर्यटक

पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त नाबालिग को शिवपुरी जिले के थाना पोहरी अन्तर्गत ग्राम मकई झिरा से दस्तयाब किया गया और पूछताछ करने पर अपहृता से जानकारी मिली कि एक आरोपी द्वारा नाबालिग की सहेली से मिलकर नाबालिग को अच्छे घर में शादी कराने का प्रलोभन दिया गया था।

घटना के दिन आरोपियों ने नाबालिग को अपने साथ ले जाकर 30 हजार रूपये मे थाना बाला बेहट जिला ललितपुर उ.प्र. में दूसरे आरोपी को बेच दिया था। वहां से नाबालिग को आरोपियों ने थाना पोहरी जिला शिवपुरी अन्तर्गत एक अन्य आरोपी के ठिकाने पर भेज दिया था। जहां पर नाबालिग को बंधक बनाकर दास (सेवक) के रूप मे रखा गया था। उपरोक्त प्रकरण में विवेचना एवं दस्तयाब शुदा अपहृता के कथन के आधार पर कुल 8 आरोपियों के विरूद्ध अपराध प्रमाणित पाया गया है। प्रकरण में 01 महिला सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है तथा एक नाबालिग को भी प्रकरण मे शामिल रहने से प्रधान न्यायधीश महोदय पन्ना के माध्यम से संरक्षण गृह मे भेजा गया है।

दो आरोपियों की तलाश अभी-भी जारी
प्रकरण के शेष दो आरोपियों की तलाश की जा रही है । इस प्रकार अब तक की विवेचना पर उक्त आरोपियों के विरूद्ध नाबालिग बालिका को बहलाफुसलाकर ले जाना, नाबालिग बालिका की खरीद परोस्ट कर मानव दुर्व्यापर मे शामिल होना, दास बनाकर रखना , छेडछाड करना एवं अनुसूचित जाति/ जनजाति अधिनियम का अपराध घटित करना पाया गया है । प्रकरण के फरार आरोपियों की तलाश एवं विवेचना जारी है।