सरकार से दो कदम आगे ये टीआई, तबादले के खिलाफ स्टे लेने में कामयाब

panna-police-station-ti-got-stay-against-government-transfer-order

भोपाल/पन्ना । मध्य प्रदेश सरकार ने सोमवार को हाईकोर्ट में तबादले आदेश के खिलाफ स्टे लेने वाले अफसरों पर रोक लगाने के लिए कैविएट दाखिल कि थी। लेकिन कैविएट दायर होने से पहले ही पन्ना के अजय गढ़ थाने में पदस्थ निरीक्षक वीरेंद्र बहादुर सिंह हाई कोर्ट से स्टे लेने में सफल हो गए। उनका तबादला पन्ना के अजय गढ़ से पन्ना के देवेंद्र नगर थाना में किया गया था। 

जानकारी के मुताबिक पन्ना के अजय गढ़ थाने में पदस्थ निरीक्षक वीरेंद्र बहादुर के तबादले आदेश के खिलाफ वह स्टे लेने में कामयाब हो गए। उन्होंने 8 फरवरी को ही तबादले के आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट से स्टे ले लिया। हालांकि, पुलिस मुख्यालय की ओर से सोमवार यानि 11 फरवरी को ही अदालत में कैविएट दायर की गई थी। तबादले से प्रभावित अफसर कोर्ट से सरकार के फैसले के खिलाफ स्टे ले आते थे। जिससे तबादले पर अमल नहीं हो पाता था। रविवार को ही राज्य सरकार ने कई अफसरों के तबादले किए हैं। अफसरो कोर्ट से स्टे न ले सकें इसलिए पुलिस मुख्यालय ने हाईकोर्ट में कैविएट दायर की थी, अब अधिकारी आसानी से तबादलों पर स्थगन नहीं ले पाएंगे। लोकसभा चुनाव से पहले सरकार अपने हिसाब से प्रशासनिक जमावट करना चाहती है। इसलिए प्रशासनिक अफसरों के तबादले लगातार जारी हैं।