पन्ना, भारत सिंह यादव। अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल में बैठे छात्र छात्राओं को पन्ना कलेक्टर संजय कुमार मिश्र ने जूस पिलाकर अनशन खत्म करवाया। पन्ना में लंबे समय से उठ रही छात्रावास की मांग को लेकर ये विद्यार्थी अनशन पर थे। दिसंबर माह से लगातार छात्रावास के लिए छात्र छात्राएं मांग कर रहे हैं जिसे लेकर कई बार राज्यपाल, मुख्यमंत्री, सांसद, विधायक, कलेक्टर, आदिम जाति कल्याण विभाग जिला संयोजक से लेकर तमाम अधिकारियों को पत्र लिखे गए। लेकिन इसपर कोई कार्यवाही नहीं की गई छात्रों ने 16 फरवरी अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू कर दी। इसमें मुख्य रूप से युवा छात्र नेता संजय अहिरवार, तिलोक अहिरवार, देवराज अहिरवार, सुनैना कोरी, माधुरी कोरी, दिलीप अहिरवार, जयंती अहिरवार आदि शामिल थे। छात्र छात्राओं ने भूख हड़ताल को  सैकड़ों की तादाद में छात्र-छात्राओं ने समर्थन दिया।

36 घंटो से छात्र छात्राओं छात्र भूख हड़ताल पर रहे जिनका 16 फरवरी को रात्रि 10 बजे बजे मेडिकल हुआ जांच हुई, उसके बाद 17 फरवरी को 12 बजे पुनः जांच हुई। इस प्रकार से छात्र-छात्राएं संघर्ष करते हुए 17 फरवरी को शाम 4:30 बजे तक भूख हड़ताल पर रहे। इसके बाद जिला कलेक्टर के द्वारा छात्रों की सभी मांगों को मानकर उन्हें लिखित आश्वासन दिया और अपने हाथों से जूस पिलाकर भूख हड़ताल खत्म करवाई।