पन्ना : बारिश में भीगा हजारों क्विंटल गेहूं, जिम्मेदार नहीं ले रहे सुध

पन्ना जिले के खरीदी केन्द्रों में खुले रखा गेहूं बारिश में भीगने से खराब हो गया। वहीं मौसम विभाग की एडवाइजरी जारी करने के बावजूद जिम्मेदारों ने इसके लिए कोई व्यवस्था नहीं की।

पन्ना, भारत सिंह यादव। प्रदेश में कुछ दिनों मौसम खराब होने के चलते मौसम विभाग (weather department) के द्वारा एडवाइजरी जारी की गई है, जिसमें 17 मई तक सागर संभाग में बूंदाबांदी के आसार हैं। बावजूद इसके जिले के खरीदी केंद्रों में हजारों टन गेंहू खुले आसमान के नीचे पड़ा है। समिति प्रबंधकों और प्रशासन द्वारा अनाज को सुरक्षित जगह पहुंचाने या ढकने की जगह खुले में खराब होने के लिए छोड़ दिया गया है।

यह भी पढ़ें:-छतरपुर : गांजे की तस्करी करते दो आरोपी गिरफ्तार, दो किलो से अधिक गांजा जब्त

पन्ना जिले में बुधवार रात्रि हल्की बारिश दर्ज की गई। जिसमें अजयगढ़ के धरमपुर, बीरा हनुमतपुर गेहूं खरीदी केंद्र अजयगढ़ तहसील अंतर्गत दिनांक भारी मात्रा में गेहूं भीग गया। वहीं देवेंद्रनगर के साथ-साथ पवई, आमनगंज, शाहनगर और गुनोर के खरीदी केन्द्रों में खुले में रखा गेहूं भीगकर बर्बाद हो गया। बारिश में खराब हो रहे गेहूं की फोटो और वीडियो वायरल हो रहे है। जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि हजारों गेहूं के बोरे खुले में लावारिस सड़ने के लिए छोड़ दिए गए हैं। बता दें कि मध्यप्रदेश और उसके आसपास बने वेदर सिस्टम के कारण वातावरण में नमी के चलते प्रदेश के पूर्वी और उत्तरी क्षेत्र के जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश का सिलसिला जारी है।