सीटी स्कैन मशीनों को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में श्रेय की राजनीति

अब देखना ये होगा कि श्रेय की राजनीति में लगे तीनों सांसदों को इसका कितना लाभ मिलता है क्योंकि जनता बहुत समझदार होती है, उसे सब दिखाई और सुनाई देता है। 

डिप्टी सीएम

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भारतीय जनता पार्टी (BJP) में आए हैं तब से पूरे ग्वालियर चंबल संभाग में विकास कार्यों का श्रेय लेने की होड़ भाजपा (BJP) के अंदर ही  मच गई है। इस बार ये होड़ सिंधिया खेमे एवं अन्य भाजपाइयों के बीच यह होड़ सरकार द्वारा स्वीकृत की गई सीटी स्कैन मशीन के बाद भी देखने को मिली।

दर असल मध्यप्रदेश सरकार ने ग्वालियर चम्बल संभाग के पांच जिलों ग्वालियर, अशोकनगर, श्योपुर, गुना और भिंड ननई सीटी स्कैन मशीनें स्वीकृत की वैसे ही इस पर श्रेय लेने की राजनीति शुरू हो गई। सिंधिया समर्थकों ने इसका श्रेय राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को देना शुरू कर दिया, खुद एक पोस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के नाम से चल रही फेसबुक के द्वारा भी आई जिसमे खुद के द्वारा मुख्यमंत्री से इस मशीन की मांग की गई थी। अशोकनगर में तो सिंधिया समर्थक मंत्री ब्रजेन्द्र सिंह यादव (Brajendra Singh Yadav) एवं विधायक जजपाल सिंह जज्जी (Jajpal Singh Jajji) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सीटी स्कैन मशीन के लिये सिंधिया का प्रयास बताया।

सीटी स्कैन मशीनों को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में श्रेय की राजनीति

ये भी पढ़ें – कोरोना में वर्कर्स की मदद के लिए आगे आये सलमान खान, किया मदद का एलान

जबकि भाजपा का दूसरा खेमा इस बात से इत्तेफाक नहीं रखता दिख रहा। केंद्रीय मंत्री एवं मुरैना सांसद नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने ग्वालियर चम्बल संभाग के जिलों के लिये मिली इन मशीनों के लिये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त किया।

सीटी स्कैन मशीनों को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में श्रेय की राजनीति

इतना ही नहीं लोकसभा चुनाव में ज्योतिरादित्य सिंधिया को हराने बाले भाजपा सांसद डॉ केपी यादव (KP Yadav) के समर्थकों ने अशोकनगर को मिली मशीन के लिये सांसद यादव (KP Yadav)  के प्रयासों का नतीजा बताया। बाकायदा इसके लिये 17 अप्रैल को सांसद द्वारा मुख्यमंत्री को लिखे इस उस पत्र को भी जारी किया गया जिसमें इस मशीन की मांग की गई थी। अशोकनगर जनसंपर्क कार्यलय से जारी हुये समाचार में भी सांसद केपी यादव के प्रयासों का हवाला दिया गया है।

 ये भी पढ़ें – इंदौर में पुलिस ने कांग्रेस नेता को किया कालाबाजारी करते गिरफ्तार, अब कांग्रेस ने भी किया निष्कासित

सीटी स्कैन मशीनों को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में श्रेय की राजनीति

बहरहाल राज्यशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सीटी स्कैन मशीनों का लाभ ग्वालियर चम्बल संभाग की जनता को मिलेगा ही।  अब देखना ये होगा कि श्रेय की राजनीति में लगे तीनों सांसदों को इसका कितना लाभ मिलता है क्योंकि जनता बहुत समझदार होती है, उसे सब दिखाई और सुनाई देता है।