MP News: कमलनाथ-शिवराज के बीच पोस्टर वार जारी, नेता प्रतिपक्ष ने जताई नाराजगी

MP News Hindi: मध्य प्रदेश की सियासत में पोस्टर वार शुरू हो गया है। तीन दिन पहले शुरू हुए इस पोस्टर वार में पहले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के पोस्टर लगाए गए। उसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के पोस्टर भी लगाने शुरू हो गए हैं। नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने इसे लेकर कड़ी आपत्ति जताई है।

कमलनाथ-शिवराज की पोस्टर वार 

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनावों की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है और कांग्रेस हो या बीजेपी दोनों एक दूसरे को कटघरे में खड़े करने की पुरजोर कोशिश कर रही है। तीन दिन पहले भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के आसपास कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के पोस्टर लगाए गए जिसमें उनको.भ्रष्ट बताया गया और पोस्टर में स्कैन करने पर उनके 15 महीने के कार्यकाल के पूरे घोटालों की सूची दी गई। अभी कांग्रेस इसकी शिकायत करने की तैयारी कर ही रही थी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पोस्टर भी जगह-जगह चिपका दिए गए।

सोमवार को एक बार फिर पोस्टर वार जारी हो गया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के पोस्टर जगह-जगह लगा दिये गए जिनमें लिखा है “50% लाओ और फोन पर काम कराओ”। इस मामले में सबसे पहले गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने प्रतिक्रिया देते हुए कमलनाथ के पोस्टर लगने को कांग्रेस की अंदरूनी कलह बताया था और उनका कहना था यह सब आपसी खुन्नस का नतीजा है। लेकिन इस बीच अब नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने इस तरह के पोस्टर वार को गलत बताया है।

नेता प्रतिपक्ष का बयान

डॉक्टर गोविंद सिंह का कहना है कि चाहे कांग्रेस के पोस्टर लगे हैं या बीजेपी के, राजनीतिक शुचिता की इजाजत नहीं देती और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को इस बात का पता लगाना चाहिए कि आखिरकार पोस्टर किसने लगाए। मुख्यमंत्री को अपनी इंटेलिजेंस के माध्यम से पोस्टर लगाने वालों का पता लगाकर उन पर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए। हालांकि यह हैरत की बात है कि देश की सर्वश्रेष्ठ स्मार्ट राजधानी होने का दावा करने वाली राजधानी भोपाल में, जहां चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी लगे होने के दावे किए जाते हैं, आखिरकार यह पोस्टर कब और कैसे चिपक जाते हैं,यह समझ से परे हैं।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News