इंदौर, आकाश धौलपुरे। मध्यप्रदेश के इंदौर में कैदियों के रोजगार और लोगों की परेशानी को देखते हुए जेल विभाग (Jail Department) ने सेंट्रल जेल (Central Jail) के नजदीक पेट्रोल पंप (Petrol Pump)का शुरुआत की है। पेट्रोल पंप का शुभारंभ शनिवार को इंदौर में डीजी जेल अरविंद कुमार के आतिथ्य में संपन्न हुआ। जेल के पेट्रोल पंप की खासियत ये रहेगी कि इसमें काम करने वाले लोग जेल के ही बंदी रहेंगे। यह वह कैदी हैं जो 15 वर्षों से अधिक की सजा काट चुके हैं और इनका आचरण भी अच्छा है ऐसे कैदियों को यहां का कर्मचारी बनाया गया है।

मीडिया से बातचीत में डीजी जेल अरविंद कुमार (Arvind Kumar) ने बताया कि यह पेट्रोल पंप जेल विभाग द्वारा बनाया गया है जहां बंदियों को रोजगार मिलेगा। वही जेल डीजी अरविंद कुमार ने कहा कि कई साल पहले जेल की स्थिति से अब जेलें बेहतर स्थिति में है। वही उन्होंने बताया कि कोरोना काल में व्यवस्थाओं  के लिहाज से इंदौर की केंद्रीय जेल नम्बर 1 पर रही। इसके जेल में कैदियों के बीच होने वाले आपसी विवाद के मामले पर डीजी जेल ने कहा कि यह आम बात है और अब स्थिति नियंत्रण में आ चुकी है आगे ऐसा न हो इसके प्रयास किये जा रहे है।

कैदी भरेंगे वाहनों में पेट्रोल ,जेल विभाग के पेट्रोल पंप का डीजी ने किया शुभारम्भ

इधर, जेल में पेट्रोल पंप निर्माण को डीजी जेल ने एक एक्सपेरिमेंट बताया और कहा कि अगर यह सफल होता है तो आगे भी ऐसे प्रोजेक्ट लाए जाएंगे ताकि बंदियों को भी रोजगार मिल सके। हालांकि इंदौर के सांवेर रोड निर्माण की जाने वाली जेल के मामले पर डीजी जेल ने कहा उसके निर्माण में समय लगेगा।