जान से मारने की धमकी मिलने पर फरियादी ने SP ऑफिस में धरना देकर लगाई अपनी सुरक्षा की गुहार, ये है मामला

फरियादी का आरोप है कि आरोपी उसे राजीनामा करने के लिए धमका रहे हैं और ऐसा ना करने पर उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना में एक फरियादी अपनी जान बचाने की गुहार लगाते हुए एसपी ऑफिस में घरने पर बैठ गया। दरअसल, सिविल लाइन थाना क्षेत्र के विंडवा कुंवारी गांव में 24 जुलाई को एक परिवार के दो सगे भाइयों के परिवारों के बीच खेत के बंटवारे को लेकर खूनी संघर्ष हो गया। जिसमें पिता राजमणि पुत्र राधे गुर्जर की लाठी-डंडों से मारपीट कर लहूलुहान कर दिया। उसके बाद उनको गोली मार दी। जिसके बाद दोनों की उपचार के बाद मौत हो गयी, बीच-बचाव करने आए राधे के भाई राम हरि तथा विष्णु पर भी उन्होंने हमला कर दिया था। जिसमें वे बाल-बाल बच गए तथा वर्तमान में उनका उपचार चल रहा है। इन दोनों के चिता की राख ठंडी भी नहीं हुई कि उनके परिजनों को अपनी जान बचाने की गुहार लगाने के लिए एसपी ऑफिस में धरना देने के लिए आना पड़ा।

ये भी देखें- असम में उग्रवादियों ने मचाया तांडव, 7 ट्रकों में लगाई आग, 5 ड्राइवर जिंदा जले, मौत

एसपी ऑफिस में धरना देने के लिए आए परिजनों ने कहा कि फरार आरोपी राजीनामा करने के लिए धमका रहे हैं। वह कह रहे हैं कि अगर राजीनामा नहीं किया तो पूरे परिवार को खत्म कर देंगे। उन्होंने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। फरियादी ने कहा कि उनके घर पर गार्ड लगाए जाए और जहां भी जाते है उनके साथ एक पुलिस वाला साथ भेजा जाए। जिससे कोई भी अप्रिय घटना ना घट सके। मौके पर पहुंचे एडिशनल एसपी राय सिंह नरवरिया ने धरने पर बैठे फरियादियों को समझा कर मामले को शांत कराया। फरियादियों ने एएसपी को ज्ञापन में बताया कि घटना के समय आरोपी उनके घर से करीब 3 लाख रुपए नगद व 10 लाख रुपए के सोने चांदी के जेवर लूट कर ले गए। इसके साथ ही घर में रखी लाइसेंसी बंदूक भी लूट ले गए। इसकी रिपोर्ट सिविल लाइन थाना पुलिस ने नहीं लिखी है। इस हत्याकांड में पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ लिया है लेकिन मुख्य आरोपियों में रामधन गुर्जर, लक्ष्मण गुर्जर, जयराम गुर्जर, गिर्राज गुर्जर, जगदीश गुर्जर, सत्यवान गुर्जर, रघुराज गुर्जर, रामनिवास गुर्जर तथा बल्लू गुर्जर को पुलिस ने नहीं पकड़ा है।

ये भी देखें- MP में कोरोना ने बढ़ाई चिंता, 16 नए पॉजिटिव केस, सामने आया गृह मंत्री का बड़ा बयान

करीब एक माह बीत जाने के बाद भी पुलिस ने आरोपियों को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया है। जिस कारण आरोपी आए दिन जान से मारने की धमकी देकर चले जाते हैं। इस मौके पर एएसपी रायसिंह नरवरिया ने फरियादी पक्ष को आश्वासन दिया है कि पुलिस जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी। इसके साथ ही उन्हें सुरक्षा गार्ड उपलब्ध भी कराया जाएगा जो भी आरोपी धमकी दे रहे हैं। उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।