अयोध्या रवाना होने से पहले प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने की ये नई मांग 

प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने शनिवार को अयोध्या रवाना होने से पहले ईदगाह हिल्स स्थित गुरुद्वारा गुरुनानक टेकरी साहेब पर मत्था टेका। उन्होंने वहां पर सिख समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा उन्होंने ये सिर्फ सिखों का इतिहास नहीं, हिंदुस्तान का इतिहास है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट ।  राजधानी की ईदगाह हिल्स (Idgah Hills) का नाम बदलकर गुरुनानक टेकरी (Gurunanak tekri) रखने की मांग करने वाले मध्यप्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा (Protem Speaker Rameshwar Sharma)ने अब एक नई मांग की है उन्होंने मप्र के स्कूली  बच्चों को गुरुनानक देव का इतिहास पढ़ने की मांग की है,  इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गुरु गोविंद सिंह (Guru Govind Singh)के बेटों का इतिहास भी स्कूलों में पढ़ाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम इस संबंध में एक मांगपत्र मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Chief Minister Shivraj Singh)को सौंपेंगे।

प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने शनिवार को अयोध्या रवाना होने से पहले ईदगाह हिल्स स्थित गुरुद्वारा गुरुनानक टेकरी साहेब पर मत्था टेका। उन्होंने वहां पर सिख समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा उन्होंने ये सिर्फ सिखों का इतिहास नहीं, हिंदुस्तान का इतिहास है। इसलिए मैं चाहता  मध्यप्रदेश के स्कूली बच्चे इसे पढ़ें हुए समझे कि कैसे देश और समाज की खातिर वीरों ने अपने प्राण न्योछावर किये। गौरतलब है कि विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर  और हुजूर से विधायक रामेश्वर शर्मा ने गुरुनानक जयंती पर मांग की थी कि ईदगाह हिल्स का नाम बदलकर गुरुनानक टेकरी किया जाना चाहिए। इसके बाद सिख समुदाय लोगों ने अपना समर्थन रामेश्वर शर्मा की मांग को दिया था और उनसे मुलाकात की थी। रामेश्वर शर्मा ने कहा कि वे जल्दी ही इस विषय में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात करेंगे।  गुरुद्वारा गुरुनानक टेकरी साहेब पर मत्था टेकने के बाद रामेश्वर शर्मा अयोध्या के लिए निकल गए. वे 6 दिसंबर को अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे  कार्यक्रमों में शामिल होंगे.