रेत माफिया ने ग्रामीणों को बन्दूक की नोक पर धमकाया, मामला दर्ज, 6 डम्पर जब्त

रायसेन| प्रदेश में रेत माफिया के हौसले बुलंद हैं| मामला रायसेन जिले से हैं| जहां नर्मदा नदी से अवैध रेत भरकर निकलने वाले डम्परों को ग्रामीणों ने रोक लिया| जब ग्रामीणों ने इसका विरोध किया तो रेत माफिया ने उन्हें बंदूक दिखाकर धमकाया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस तथा खनिज अमले द्वारा मौके पर पहुंचकर रेत से भरे 6 डंफर तथा लायसेंसी बन्दूक जप्त करते हुए संबंधितों के विरूद्ध कार्यवाही की गई।

मामला रायसेन जिले के बरेली थाना क्षेत्र के अलीगंज गांव का है। ग्रामीणों का आरोप है कि रेत भरकर डंपर निकलने से गांव की सड़क क्षतिग्रस्त हो रही है। इससे परेशान ग्रामीणों ने जब विरोध किया और गांव से निकल रहे डंपरों को रोक दिया तो रेत माफिया के बंदूकधारियों ने उन्हें बंदूक दिखाकर धमकाया और डंपर जाने देने के लिए कहा। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दे दी।

रेत के अवैध खनन और परिवहन करने वालों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए राजस्व, खनिज तथा पुलिस विभाग के दल द्वारा रेत से भरे 6 डंफर जप्त किए गए। एसडीएम बृजेन्द्र रावत ने बताया कि ग्राम अलीगंज में फरियादी मनोज धाकड़ पिता दिलीप सिंह धाकड़ को रेत के डंफर निकालने की बात को लेकर दो व्यक्तियों अतीश सिंह पिता रसाल सिंह सिकरवार तथा मुकेश सिंह सिकरवार पिता रामपाल सिंह सिकरवार द्वारा लायसेंसी बन्दूक दिखाकर गोली मारने की धमकी दी गई थी। मनोज धाकड़ द्वारा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने पर दोनों आरोपी अतीश सिंह सिकरवार तथा मुकेश सिंह सिकरवार के विरुद्ध अपराध क्रमांक 270, 20 धारा 506, 34 भादवि 20, 30 आर्म्स एक्ट के तहत पंजीबद्ध किया गया है। यह कार्यवाही एसडीएम बृजेन्द्र रावत, तहसीलदार राजीव सिंह, एसडीओपी घनघोरिया तथा खनिज विभाग के अधिकारियों द्वारा संयुक्त रूप से की गई।