रायसेन| किसानों को लेकर सोमवार को प्रदेश भर में भाजपा और कांग्रेस ने एक दूसरे के खिलाफ प्रदर्शन किया| भाजपा ने जहां बिजली बिल और किसानों के मुआवजे को लेकर प्रदेश सरकार को घेरा तो कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने कोई सहायता राशि उपलब्ध नहीं करवाई है। रायसेन में पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भारतीय जनता पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं के साथ सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया|  

पूर्व मंत्री मिश्रा ने कहा मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार आज ही के दिन प्रदर्शन करके सिर्फ झूठ का पाखंड कर रही है। मध्य प्रदेश के 35 जिलों में सर्वे के कार्य को पटवारी और तहसीलदार कि अप्रत्यक्ष रूप से हड़ताल करा कर किसान के साथ दुर्भावनापूर्ण अन्याय किया है | कांग्रेस सरकार पेट्रोल डीजल पर अधिभार बढ़ाकर लोगों से किसानों के नाम पर वसूली या तो बंद करें या उससे आने वाले पैसे को मेरे मध्य प्रदेश के भोले-भाले किसानों तक पहुंचाएं। उन्होंने कहा 160 रुपए बोनस का किसान एक साल से इन्तजार कर रहे हैं, अतिवृष्टि से सभी फसलें खराब हो गई, लेकिन मुआवजा नहीं दिया, सरकार सर्वे ही नहीं करा पाई और हर बात का ठीकरा केंद्र पर फोड़ने की कोशिश प्रदेश सरकार कर रही है| 35 जिलों में सर्वे ही नहीं किया| नौजवानों को बेरोजगारी भत्ता देने का कहा था एक को भी नहीं दिया, बिजली के बिल हाफ करने थे और बढ़ गए, इसलिए भाजपा का यह आंदोलन है| भाजपा किसानों के साथ हमेशा जमीन पर उनके हक़ के लिए लड़ाई लड़ेगी|  हम जब तक किसानों और नौजवानों को उनका हक नहीं दिला देते मैं और मेरी पार्टी लगातार सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन करती रहेगी