कोरोना वायरस संकट पर सरकार और प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े उद्योगपति

रायसेन। दिनेश यादव।

मध्यप्रदेश के रायसेन में नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए कलेक्टर उमाशंकर भार्गव तथा एसपी श्रीमती मोनिका शुक्ला ने मण्डीदीप में औद्योगिक कम्पनियों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। इस दौरान कलेक्टर भार्गव ने कहा कि क्षेत्र में बाहर से कोई श्रमिक न आए यह सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही जो श्रमिक बाहर से आए हैं उनकी तुरंत स्क्रीनिंग कराई जाए तथा उन्हें 14 दिनों तक होम कोरेन्टाईन रखा जाए। उन्होंने वायरस संक्रमण से बचाव के लिए देश में घोषित किए गए लॉकडाउन अवधि में श्रमिकों, कामगारों को उनके वेतन का बिना किसी कटौती के पूरा भुगतान किया जाए। साथ ही किसी भी श्रमिक, कामगार को नौकरी से नहीं निकाला जाए।
कलेक्टर भार्गव ने कहा कि अनेक उद्योगो में ठेकेदार के माध्यम से श्रमिक उपलब्ध कराए जाते हैं।

यदि उद्योगों द्वारा श्रमिकों के वेतन का भुगतान ठेकेदार को कर दिया गया है और ठेकेदार द्वारा श्रमिकों को भुगतान नहीं किया गया है तो एसडीएम, पुलिस अधिकारी संबंधित ठेकेदार से श्रमिकों को उनके वेतन का भुगतान कराया जाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने ठेकेदार द्वारा भुगतान नहीं किए जाने पर उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कुछ ठेकेदारों द्वारा श्रमिकों को वेतन का भुगतान नहीं किए जाने की जानकारी मिलने पर मजदूरी भुगतान की कार्यवाही की गई। अभी तक 80 प्रतिशत से अधिक श्रमिकों को ठेकेदारों द्वारा मजदूरी का भुगतान किया जा चुका है।

बैठक में कलेक्टर भार्गव ने यह भी कहा कि जिन उद्योगों में किचिन है वे स्वयं तथा जिन उद्योगों में किचिन नहीं है वह नगरपालिका के सहयोग से श्रमिकों और जरूरतमंदों के लिए भोजन के पैकेट तैयार करेंगे। लगभग 10 हजार पैकेट प्रतिदिन तैयार करने की व्यवस्था की गई है। बैठक में क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र पटवा ने औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों से कोरोना संक्रमण को रोकने के संबंध में भारत सरकार और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए कहा। उन्होंने मजदूरों, निर्धन लोगों के लिए भोजन सहित अन्य व्यवस्था के लिए उनकी आवश्यकता होने पर अवगत कराने के लिए कहा। बैठक में मण्डीदीप नगर पालिका अध्यक्ष बद्री चौहान,एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल, एकेबीएन के एमडी जेएन व्यास एवं सतलापुर मंडीदीप इंडस्ट्रियल एरिया के कई उद्योगपति सहित प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे।

इस मुश्किल की घड़ी में तैयार सभी उद्योगपति

मंडीदीप एसोसिएशन ऑफ ऑल इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल ने बताया कि कोरोना वायरस जैसी इस गंभीर महामारी के समय में सभी उद्योगपति कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं और इस महामारी से निपटने के लिए हम सभी हर तरीके से तैयार हैं।
राजीव अग्रवाल ने यह भी कहा कि हमें कई इंडस्ट्रीज के जरिए सहयोग मिल रहा है जिससे हम गरीब मजदूर असहाय लोगों की मदद कर रहे हैं। अग्रवाल ने कहा की हमारी एसोसिएशन के सहयोग से गरीब निर्धन असहाय लोगों के लिए भोजन मार्क्स सैनिटाइजर जैसी चीजें उपलब्ध कराई जा रही हैं अग्रवाल ने यह भी कहा कि मंडीदीप सतलापुर के अलावा भोपाल के मिसरोद बागसेवनिया इलाके के आसपास भी गरीब लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था एसोसिएशन द्वारा की जा रही है अग्रवाल ने कहा इस संकट की घड़ी में हमारे साथ एचईजी, वर्धमान ग्रुप, आयसर ,पीएनजी,लूपिन, एनकेएम केबल्स,सोनिक बायोकेम,दावत फूड,मैजिस्टिक फूड,मायकॉर्प टेक्नोलॉजीज,ओरिएंट कागज़ कॉन्वेर्टर्स,क्रिसेंट टेक्नोलॉजीज, अवगोल इंडिया बद्री फाइबर्स, डावर लोजिस्टिक्स विपुल के साथ अन्य इंडस्ट्रीज इस संकट की घड़ी में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी हैं।आपको बता दें इससे पहले एचईजी लिमिटेड कंपनी के सीईओ मनीष गुलाटी ने भोपाल में सीएम शिवराज सिंह चौहान से मिलकर एक करोड़ की राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष में प्रदान की थी।

कोरोना वायरस संकट पर सरकार और प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े उद्योगपति