रायसेन : नाबालिग छात्रा ने पेश की ईमानदारी की मिसाल स्वर्ण आभूषणों से भरा बैग लौटाया।

आभूषण मालिक ने छात्रा को ₹51000 हजार नगद प्रदान कर छात्रा का सम्मान भी किया।

रायसेन, डेक्स रिपोर्ट। रायसेन (Raisen) जिले के उदयपुरा में कक्षा 6 में पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है जहां आज के दौर में लोग पैसों के लिए चोरी डकैती लूट जैसी घटनाओं को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहे वहीं दूसरी ओर इस बालिका ने सड़क पर मिले लाखों के आभूषणों को लौटाया जिसकी चारों तरफ प्रशंसा हो रही है छात्रा के इस अंदाज को देखकर आभूषण मालिक ने छात्रा को ₹51000 हजार नगद प्रदान कर छात्रा का सम्मान भी किया।

यह भी पढ़े…गृह मंत्री ने किया भोपाल सेंट्रल जेल का निरीक्षण

दरअसल जिले के उदयपुरा थाना क्षेत्र का यह पूरा मामला है जहां 20 फरवरी को यशपाल सिंह पटेल निवासी ककरुआ की बेटी का स्वर्ण आभूषण से भरा हुआ बैग गिर गया था जिसकी सूचना पुलिस को भी दी गई थी पुलिस एवं परिजन उक्त आभूषण के बैग को ढूंढने में लग गए थे सोशल मीडिया व्हाट्सएप के जरिए भी इसकी जानकारी भेजी गई थी।

यह भी पढ़े…जबलपुर : कलेक्टर ने दिए निर्देश, सहारा इंडिया 3 दिन में जमा राशि करें वापस

नाबालिग बच्ची ने ईमानदारी की बड़ी मिसाल कायम की और उस बैग को आभूषण सहित लौटाया छात्रा रीना पिता मंगल सिंह हरिजन की माने तो जिस जगह पर आभूषण से भरा हुआ बैग मिला उस स्थान पर बड़ी देर तक उन्होंने इंतजार किया कि जिसका यह बैग गिरा हुआ वह ढूंढते हुए वापस आएगा तो लौटा देंगे लेकिन लंबे समय तक कोई नहीं आया जिसके बाद उदयपुरा के प्रतिष्ठित डॉ मोहनलाल बड़कुर के बटयारा एवं छात्रा के पिता मंगलसिंह ने पूरी कहानी बताई जिसके बाद मोहनलाल ने थाना प्रभारी प्रकाश शर्मा को पूरी जानकारी दी और आभूषणों से भरा बैग पुलिस को सौंप दिया जब परिजनों को इसकी जानकारी लगी तो वह भी पुलिस थाने पहुंचे।

यह भी पढ़े…जब बारातियों का स्वागत लड़की वालों ने कुछ इस अंदाज में किया, कि पुलिस को आकर छुड़ाने पड़े बाराती

ईमानदारी की मिसाल कायम करने बाली छात्रा का संपूर्ण नगर के लोगों ने सम्मान किया वहीं छात्रा को 51 हजार नगद राशि देकर प्रोत्साहन किया थाना प्रभारी उदयपुरा प्रकाश शर्मा के द्वारा भी 1100 सो रुपए नगद राशि देकर छात्रा की प्रशंसा की और कहा कि शासन स्तर पर भी बच्ची को सम्मान दिलाने का पूरा प्रयास किया जाएगा।