अवैध शराब के कारोबार का पर्दाफाश, कांग्रेस नेता गिरफ्तार, 1 करोड़ की शराब व सामग्री जब्त

राजगढ़| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ (Rajgarh) के लिम्बोदा गाँव मे पुलिस ने अवैध शराब (Illegal liquor) बनाने की फैक्टरी पर दबिश देकर एक करोड़ से अधिक की अवैध शराब और सामग्री जब्त की है | जिस मकान में यह अवैध कारोबार किया जा रहा था वह कांग्रेस नेता व पूर्व मंडी अध्यक्ष फूल सिंह गुर्जर का है जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस (Police) को कुछ दिनों से सूचना मिल रही थी कि लिम्बोदा गाँव में कुछ आपराधिक प्रवृत्ति के लोग अवैध रूप से शराब व्यापार में लिप्त हैं | इन सूचनाओं के आधार पर राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा द्वारा अपने सूचना संकलन के माध्यम से इन अपराधियों की खोजबीन प्रारंभ की। अवैध शराब के व्यापार में लिप्त इस तरह के अपराधियों को उनके अंजाम तक पहुंचाने के लिए एसपी प्रदीप शर्मा द्वारा एक विशेष टीम का गठन किया गया| टीम को पता चला कि पूर्व मंडी अध्यक्ष फूल सिंह गुर्जर, पिता नारायण सिंह गुर्जर और गोपाल उर्फ रामगोपाल वर्मा आपस में मिलकर अवैध शराब का बड़ा कारोबार चला रहे है । पुलिस ने सूचना के आधार पर ठिकाने का पता लगाकर घेराबंदी कर छापा मारा| कार्रवाई के दौरान कांग्रेस नेता को फूलसिंह गुर्जर को भागते हुए पुलिस धर दबोचा ।

पुलिस ने जब आरोपी के ठिकाने को खंगालना शुरू किया तो सभी के होश उड़ गए वहां भारी मात्रा में अवैध शराब की बौटलिगं की जा थी | यह सारा गोरखधंधा आरोपी फूल सिंह के मकान के बरामदे से संचालित किया जा रहा था| मौके से अवैध शराब के निर्माण के लिए भारी मात्रा में स्प्रिट व अंग्रेजी एवं देसी शराब के निर्माण के लिए भारी मात्रा में कांच की एवं प्लास्टिक की बॉटल्स व ढक्कन लगाने वाली मशीन को जप्त किया गया|

अवैध शराब भरकर उसे बेचने का गौरख धंधा किया जा रहा था। प्रकरण मे मुख्य रूप से फूल सिंह पिता नारायण सिंह गुर्जर एवं गोपाल उर्फ राम गोपाल वर्मा एवं उसके चार अन्य साथियों के विरुद्ध थाना माचलपुर में अपराध क्रमांक 112/2020 धारा 420, 467, 468, 471,475,188, 269, 270, 34 भादवि 34(2), 49(A) आबकारी अधिनियम , आपदा प्रबंधन की धारा 51, ट्रेडमार्क अधिनियम की धारा 29 के तहत पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है । मामले में आरोपी राम गोपाल वर्मा की तलाश जारी है | गिरफ्त में आए आरोपी फूल सिंह गुर्जर से पूछताछ की जा रही है| जिला पुलिस बल राजगढ द्वारा एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया गया है जिसके तहत करीब एक करोड़ एक लाख रुपए के अवैध शराब बनाने उपकरण सहित भारी मात्रा में स्पिरिट एवं परिवहन करने वाले वाहनों को जप्त किया गया।