एडीजी उपेंद्र जैन के निर्देश पर बड़ी कार्रवाई, अवैध शराब की बड़ी खेप ले जाते दो गिरफ्तार

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट
अवैध शराब परिवहन के विरुद्ध जिला पुलिस को बड़ी सफलता मिली है| भारी मात्रा मे लाखों की अवैध शराब की बड़ी खेप ले जाते दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है| आरोपी गुप्त ढंग से ट्रक की बॉडी के भीतर पार्टिशन बनाकर 600 पेटी अवैध शराब का परिवहन कर रहे थे|

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक भोपाल झोन भोपाल उपेंद्र जैन के निर्देश पर उप पुलिस महानिरीक्षक भोपाल देहात रेंज संजय तिवारी के मार्गदर्शन में राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा द्वारा अवैध शराब की तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए जिले में लगातार कार्रवाई की जा रही है, जिसके चलते वरिष्ठ अधिकारियों के कुशल मार्गदर्शन में अवैध शराब के परिवहन एवं तस्करी में लिप्त अपराधियों के हौसले पस्त करते हुए जिला राजगढ़ की पुलिस ने एक बड़ी खेप ले जाते आरोपियों को धर दबोचा है|

एसपी प्रदीप शर्मा लगातार इस तरह के अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु प्रयासरत हैं जिसके तहत जिले की पुलिस टीम को अलर्ट पर रखा गया था, सूचना मिलने पर तत्काल एक्शन में आते हुए एक बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया गया। मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि ट्रक क्रमांक यूपी 75 एटी 9953 से अवैध शराब की एक खेप लेकर ब्यावरा से करनवास होते हुये ग्राम कड़िया गुलखेड़ी पहुंचाने की योजना है, परंतु पुलिस को इस बात की सूचना पहले ही लग चुकी थी, सूचना पर अग्रिम कार्रवाई करते हुए सूचना कि तस्दीक हेतु उप निरीक्षक संदीप मीणा द्वारा हमराही स्टाफ एवं पंचान के साथ थाना करनवास के सामने हाईवे पर एंबुस लगाया गया एवं ट्रक क्रमांक यूपी 75 एटी 9953 के ब्यावरा तरफ से आने की सूचना मिलने पर ट्रक को थाने के सामने घेराबंदी कर रोका गया|

ट्रक में सवार ड्राइवर एवं क्लीनर से नाम पता पूछने पर ड्रायवर सीट पर बैठे व्यक्ति ने अपना नाम भगवान दास पिता धन सिंह कुशवाह उम्र 32 साल निवासी ग्राम हैदलपुर थाना कौलारी ज़िला धौलपुर राजस्थान एवं क्लीनर ने अपना नाम सुरेंद्र पिता भौगीराम कुशवाह उम्र 39 साल नि ग्राम कोलुआ का पूरा थाना कौलारी ज़िला धोलपुर राजस्थान का होना बताया। वाहन चालक एवं क्लीनर से पूछताछ करने पर उन्होंने पुलिस को गुमराह कर वाहन में लकड़ी की बीडिंग के बंडल होना बताया, पुलिस को इस बात पर विश्वास था कि मुखबिर की सूचना बिल्कुल सटीक थी इसलिए ट्रक को चेक करने पर उसके उपर से तिरपाल को हटा कर देखने पर लकड़ी की बीडिंग के बंडल होना होना पाया|

मामले की तह तक जाने के लिए दोनों ही संदेहियों से गहराई से पूछताछ की गई, दोनों ही काफी मंजे हुए खिलाड़ी होकर पुलिस को लगातार गुमराह करते रहे परंतु जब दोनों से अलग-अलग पूछताछ की गई तो पुलिस को एक बेहतरीन सुराग हाथ लगा। थाना प्रभारी करनवास द्वारा क्लीनर से पूछताछ करने पर उसने कुछ खुलासे किए जिस पर क्लीनर सीट के पीछे लगे गद्दे के स्क्रू खोल कर गद्दे को हटा कर देखने पर पूरा माजरा स्पष्ट हो गया, गद्दे हटाकर देखने पर ट्रक के भीतर की तरफ खाकी कार्टून रखे दिखाई दिए, उक्त कार्टून में अवैध शराब होने का अंदेशा होने पर कार्टून को ट्रक से बाहर निकाल कर चेक किया गया, तो उक्त खाकी डिब्बों में देशी संतरा शराब होना पाई गई, इस प्रकार ट्रक को खाली करने पर 600 खाकी कार्टूनों में देशी संतरा मसालेदार शराब लगभग 30000 क्वाटर कुल 5400 लीटर अवैध शराब आरोपियों के कब्जे से विधिवत जप्त की गई, साथ ही ट्रक क्रमांक यूपी 75 एटी 9953 को मय दस्तावेज एवं उस पर ढकी तिरपाल रस्सी व कुल 30 लकड़ी की बीडिंग के बंडलो को भी ज़ब्त किया गया।

थाना कनवास पुलिस की मुस्तैदी के चलते अवैध शराब के परिवहन की इस बड़ी खेप को ले जाते दो आरोपियों को गिरफ्तार कर आरोपियों के कब्जे से कुल 37 लाख रूपये का मशरूका विधिवत समक्ष पंचान के जप्त किया गया। आरोपियों का कृत्य धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत दंडनीय पाए जाने से आरोपीगण भगवान दास पिता धन सिंह कुशवाह उम्र 32 साल निवासी ग्राम हैदलपुर थाना कौलारी ज़िला धौलपुर राजस्थान एवं सुरेंद्र पिता भौगीराम कुशवाह उम्र 39 साल नि ग्राम कोलुआ का पूरा थाना कौलारी ज़िला धोलपुर राजस्थान को गिरफतारी का कारण बताते हुये अपराध सदर में विधिवत गिरफ्तार किया गया एवं आरोपियों के विरुद्ध थाना करनवास में अप.क्र. 157/20 धारा 34(2)आब. एक्ट का कायम कर विवेचना में लिया गया।