थाना प्रभारी पर CRPF के रिटायर्ड जवान से मारपीट का आरोप, एसपी से शिकायत

charged-on-ti-who-is-beaten-ex-crpf-soldier-in-rajgadh

राजगढ़| मनीष सोनी| देश के दुश्मनों से लोहा लेने वाले जवानों को देश के अंदर ही कानून के रखवालों से न्याय के लिए गुहार लगाना पड़ रही है| मामला राजगढ़ जिले का है जहां रिटायर्ड CRPF के जवान ने पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया है| जवान ने एसपी से थाना प्रभारी की शिकायत की है| रिटायर्ड जवान ने अपनी पत्नी के साथ एसपी कार्यालय पहुंचकर न्याय की गुहार लगाईं है|

जिले के खिलचीपुर थाने में थाना प्रभारी मुकेश तिवारी पर  रिटायर्ड CRPF के जवान के साथ मारपीट करने के आरोप लगे है । पुलिस के इस रवैये का रिटायर्ड सीआरपीएफ के जवान मांगीलाल वर्मा ने विरोध किया और मनोबल टूट गया|  रिटायर्ड जवान मांगीलाल व उसकी पत्नी ने थाने में की गई मारपीट को लेकर राजगढ़ SP प्रदीप शर्मा के पास पहुंचकर खिलचीपुर थाना प्रभारी की शिकायत की है| पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने पूरी घटना को सुनने के बाद CCTV फुटेज के आधार पर जांच के बाद उचित कार्रवाई की बात कही है ।

 

क्या है मामला

CRPF में शामिल होकर अपनी 22 साल से अधिक समय तक सेवाएं देकर रिटायर्ड होकर अपने गाँव खिलचीपुर लोटे मांगीलाल वर्मा खिलचीपुर के समीप लिम्बोदा गाँव में अपनी जमीन पर मकान का निर्माण करवा रहे थे|  तभी निर्माण के दौरान रात के समय उनकी पानी की मोटर चोरी हो गई | दो दिन बाद रात के समय उनके मकान के पास उन्हें एक संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया| जिससे मांगीलाल वर्मा ने पूछताछ की, जिसमे उस व्यक्ति ने अपना नाम पवन तिवारी बताया ओर उसी दौरान पूछताछ के बाद रिटायर्ड जवान मांगीलाल वर्मा और पवन तिवारी के बीच विवाद हो गया|  वही रिटायर्ड जवान मांगीलाल ने बताया कि पवन तिवारी उस पूछताछ से इतना नाराज हुआ की उसने उसके साथियों के साथ रिटायर्ड जवान मांगीलाल की पिटाई कर दी|  मारपीट के बाद जब अपनी पत्नी के साथ रिटायर्ड जवान मांगीलाल वर्मा खिलचीपुर थाने पहुचे तो वहां मौजूद थाना प्रभारी मुकेश तिवारी ने पूर्व जवान मांगीलाल की रिपोर्ट नहीं लिखी| मांगीलाल ने  बताया कि जब वह FIR के लिये बोलने लगा तो खिलचीपुर थाना प्रभारी मुकेश तिवारी ने रिपोर्ट न लिखवाने के लिए दबाब बनाते हुए मांगीलाल के साथ थाने के अंदर मारपीट की , जिसे बाद थाना प्रभारी पर कार्यवाई करने के लिए मांगीलाल वर्मा अपनी पत्नी के साथ राजगढ़ SP से शिकायत करने पहुचे जहा SP प्रदीप शर्मा ने पूरी घटना को सुनने के बाद CCTV फुटेज के आधार पर जांच के बाद उचित कार्यवाई की बात कही है ।