सीएम शिवराज ने शहीद मनीष विश्वकर्मा की प्रतिमा का अनावरण किया, परिवार को 1 करोड़ सम्मान निधि और शासकीय नौकरी

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने घोषणा की है कि शहीदों के परिवार को 1 करोड़ की सम्मान निधि दी जाएगी। ये घोषणा उन्होने आज खुजनेर में अमर शहीद मनीष विश्वकर्मा की मूर्ति के अनावरण अवसर पर की। इस अवसर पर वहां मंत्री डॉ. मोहन यादव, विश्वास सारंग, सांसद रोडमल नागर एवं अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

राष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने गिनाईं MP की उपलब्धियां

सीएम ने आज ग्राम खुजने में अमर शहीद श्री मनीष विश्वकर्मा की प्रतिमा का अनावरण किया और पुष्पांजलि अर्पित की। वे शहीद के माता पिता से मिले और उन्हें सम्मानित भी किया। इस अवसर पर सीएम ने घोषणा की कि उनके परिवार को एक करोड़ की सम्मान निधि दी जाएगी। उन्होने कहा कि ‘पूजे न शहीद गए तो फिर, यह पंथ कौन अपनाएगा? तोपों के मुँह से कौन अकड़ अपनी छातियाँ अड़ाएगा? चूमेगा फन्दे कौन, गोलियाँ कौन वक्ष पर खाएगा? अपने हाथों अपने मस्तक फिर आगे कौन बढ़ाएगा? हमने तय किया कि अगर कोई देश के लिए जान देगा तो ₹1 करोड़ की सम्मान निधि हम शहीद के परिवार को देंगे। मैं शहीद जवान स्व. मनीष विश्वकर्मा जी के चरणों में अपनी और प्रदेशवासियों की ओर से श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं। उनके परिवार के साथ हम खड़े हैं। अब यह परिवार हमारा और संपूर्ण मध्यप्रदेश का परिवार है।’

इस सम्मान राशि में से मध्यप्रदेश सरकार एक करोड़ की सम्मान निधि शहीद के परिवार को देते हैं। इसके दो हिस्से किए गए हैं। 60 लाख रुपये शहीद की पत्नी को और 40 लाख राशि उनके माता पिता के खाते में जाएंगे। इसी के साथ उनकी पत्नी को सरकारी नौकरी भी दी गई है। सीएम ने कहा कि ‘शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशा होगा। हम हमेशा शहीदों के परिवार के साथ हैं और आजीवन रहेंगे।’