नियमों को ताक पर रख कंटेनमेंट जोन में पहुंचे पूर्व मंत्री

राजगढ़| केंद्र सरकार (Central Government) की उपलब्धियां बताने मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ (Rajgadh) प्रदेश के पूर्व गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता (UmaShankar Gupta) वैश्य समाज के जिला अध्यक्ष केएन गुप्ता के घर कोविड-19 के सारे नियमों को ताक पर रखकर उनके घर बैठने पहुंचे। साथ ही लोगो के साथ नाश्ता किया| जिस घर पूर्व मंत्री गुप्ता नाश्ते के लिए गए थे ,उसके समीप ही एक महिला की कोरोना पाजेटिव मिली है, जो कि कंटेनमेंट एरिया में शामिल है।

शुक्रवार की सुबह जिले की सैंपलिंग की रिपोर्ट आने के बाद तीन पॉजिटिव मरीज सामने आए। इनमें से दो ब्यावरा और एक राजगढ़ की शंकर कॉलोनी में एएनएम को कोरोना संक्रमण मिला है। यही कारण है कि इस पूरी एरिया को सील किया गया है। लेकिन पूर्व मंत्री और भाजपा नेता उमा शंकर गुप्ता कंटेनमेंट एरिया में बैरिकेट्स हटवा कर उनके घर बैठने पहुंचे और जिस एरिए को चारों तरफ से सील किया गया है। वहां से किसी भी व्यक्ति को आने-जाने पर प्रतिबंध है। वहां सिर्फ उमाशंकर गुप्ता नहीं पहुंचे बल्कि केएन गुप्ता भी उस मोहल्ले से संस्कृति होटल तक पहुंचे और उन्हें अपने घर लेकर गए। सवाल उठता है कि क्या यह सारे प्रतिबंध या नियम आमजन पर हैं इनका रसूख पर कोई असर नहीं जो, शासन द्वारा बनाए गए नियमों को तोड़ने पर भी किसी प्रकार की कोई कार्रवाई की जगह उनके साथ खुद अधिकारी या कर्मचारी मौजूद रहते हैं।