किसान आंदोलन को लेकर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का बड़ा बयान

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान आंदोलन को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा है कि हमें उम्मीद है कि 15 तारीख को किसानों के साथ होने वाली बातचीत में हम कोई रास्ता निकाल लेंगे। तोमर ने कहा है कि आंदोलनरत किसान यूनियन से सरकार लगातार वार्ता कर रही है और हमारी कोशिश है कि किसान यूनियन के लोग कानून के प्रावधान पर चर्चा करें। उन्होने कहा कि 15 तारीख को अगली वार्ता की तिथि निश्चित है और उस दिन प्रावधान पर चर्चा होगी, विकल्पों पर चर्चा होगी और हम लोग कुछ रास्ता खोजने में आगे बढ़ेंगे।

नरेंद्र सिंह तोमर एक दिवसीय निजी दौरे पर राजगढ़ आये थे। इस दौरान उन्होने पत्रकारों से बातचीत में 26 जनवरी के दिन आहुत किसानों के ट्रैक्टर आंदोलन पर कहा कि मैं समझता हूं 26 जनवरी गणतंत्र दिवस है, गणतंत्र दिवस हमारे देश का सबसे प्रमुख त्यौहार है और इस त्यौहार की गरिमा किसी भी प्रकार से प्रभावित ना हो यह हर भारतीय का कर्तव्य है, यह किसानों का भी कर्तव्य है। बता दें कि किसानों ने 26 जनवरी को ट्रेक्टर मार्च का आह्वान किया है। वहीं सुप्रीम कोर्ट द्वारा सरकार से कानून होल्ड पर रखने की बात कहने पर नरेंद्र तोमर ने कहा कि कृषि सुधार बिल कानून से संबंधित चर्चा सुप्रीम कोर्ट के समक्ष विचाराधीन है और जब कोई विषय न्यायालय में विचाराधीन हो तो उस पर टिप्पणी करना उचित नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here