पुलिस का दावा-टीम को बंधक बनाकर पीटा, ग्रामीणों ने पुलिसकर्मियों पर लगाया रेप का आरोप

Police-claim---beaten-up-by-making-hostage-by-the-villagers-in-rajgadh

राजगढ़| मनीष सोनी|  जिले में एक अनोखा मामला सामने आया है, जहां ग्रामीण और पुलिस एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इस पूरे मामले में एक ग्रामीण महिला ने दो पुलिस कर्मियों पर रेप का आरोप लगाया वहीं पुलिस कर्मियों ने बंधक बनाकर मारपीट का आरोप लगाया है ।

पुलिस के अनुसार राजगढ़ जिले की छापीहेड़ा पुलिस को सूचना मिली कि एक टेम्पो ट्रेक्स अवैध शराब लेकर जा रही है। छापीहेड़ा पुलिस का एक दल और डायल 100 उस ट्रेक्स का पीछा करने लगी, उस ट्रैक्स वाहन ने टक्कर मारकर एक पुलिस कर्मी को घायल कर दिया। छापीहेड़ा पुलिस वाहन का पीछा करते हुए खिलचीपुर थाने के बामनगांव में घुस गई। बामनगांव में ग्रामीणों ने पुलिस दल को घेरकर उनकी आंखों में मिर्ची फेंक दी और पुलिस कर्मियों की वर्दी फाड़कर उनके साथ मारपीट भी की। ग्रामीणों ने पुलिस को बंधक बनाकर जबरन शराब पिलाई।

पुलिस की कहानी से उलट ग्रामीणों का आरोप है कि छापीहेड़ा पुलिस गांव में एक आरोपी को ढूंढने उसके घर पहुंची, घर में उसकी पत्नी अकेली थी, अकेली पत्नी को देखकर पुलिस वालों ने उसे थाने चलने को कहा। थाने का कहकर पुलिस वाले उसे ले गए और दूर ले जाकर सूनसान स्थान पर दो पुलिस कर्मियों ने उसके साथ बलात्कार किया। आरोप प्रत्यारोप से मामला संदिग्ध हो गया है, आखिर इस पूरे मामले में सच्चाई क्या है, जांच के बाद ही स्पष्ट होगा।