पुलिस ने 86 लाख का डोडा चूरा और मशरूका जब्त किया, एक गिरफ्तार

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। जिला पुलिस ने कार्रवाई करते हुए डोडा चूरा की तस्करी की बड़ी खेप पकड़ी है। पुलिस ने एक ट्रक में आटे के पैकेट के नीचे छिपा कर ले जाते हुए करीब 3 हजार किलो डोडा चूरा पकड़ा है। इसी के साथ ट्रक चालक को गिरफ्तार भी किया गया है।

पांच अपराधियों पर राज्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई, 6 माह तक देनी होगी हाजिरी

राजगढ़ जिले में मादक पदार्थों के तस्करों के खिलाफ पुलिस की ओर से लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी सिलसिले में ब्यावरा देहात थाना प्रभारी आदित्या सोनी ने अपनी टीम के साथ करीब 3000 किलो डोडा चूरा पकड़ा है। इस मामले में पंजाब के रहने वाले एक ट्रक चालक आरोपी गुरु सेवक उर्फ सेवा सिंह जुलाहा की गिरफ्तारी भी हुई है। इस मामले में आरोपी गुरु सेवक के विरुद्ध अपराध क्रमांक 300/2021 धारा 08/15 एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है।

मंगलवार को ब्यावरा के देहात थाने में घटना का खुलासा करते हुये राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा ने बताया कि दिनांक 16 अगस्त को ब्यावरा पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि इंदौर रोड की तरफ से ट्रक क्र. एचआर 69 बी 3322 का चालक ट्रक में आटे के पैकेट के नीचे अवैध रुप से मादक पदार्थ डोडा चूरा की बोरियां लेकर ब्यावरा तरफ आ रहा है। सूचना की जांच के लिये थाना ब्यावरा देहात प्रभारी उप निरीक्षक आदित्य सोनी अपने फोर्स के साथ रवाना होकर भोपाल चौराहा पहुँचे जहाँ पर ब्रीज के नीचे इंदौर तरफ से आने वाले ट्रकों की चेकिंग के लिए चेकिंग प्वाइंट लगाया गया। थोड़ी देरी के बाद इंदौर रोड तरफ से मुखबिर के द्वारा बताए अनुसार ट्रक आता हुआ दिखा। पुलिस टीम ने उसको रोकने का प्रयास तो वह ट्रक चालक ने ट्रक की गति तेज कर भागने का प्रयास किया, जिसको लेकर पुलिस टीम ने घेराबंदी कर ट्रक को रोका। इसके बाद ट्रक चालक से पूछताछ करने की कोशिश की जा रही थी लेकिन वह पुलिस टीम को सहयोग नहीं कर रहा था। ट्रक के चालक से उसका नाम पता पूछा तो ट्रक चालक ने अपना नाम गुरुसेवक उर्फ सेवासिंह जुलाहा, उम्र 41 साल, और ग्राम खानपूर तह.खरड जिला मोहाली (पंजाब) का रहने वाला बताया। संदेही की बातों पर शंका होने के कारण एवं मुखबिर सूचना पुख्ता होने के चलते ट्रक की तलाशी ली गई। ट्रक पर ढकी त्रिपाल हटाकर देखा तो ट्रक में प्रीमियम कंपनी के आटे के कट्टे रखे दिखे जिन्हे हटाकर चेक करने पर पूरा माजरा पुलिस टीम को समझ में आ गया। अ

ट्रक में अवैध मादक पदार्थ डोडा चूरा को बड़े ही शातिर तरीके से आटे की बोरियों के नीचे छुपाया गया था। आटे के कट्टों को हटा कर देखा तो कट्टों के नीचे काले रंग प्लास्टिक के कट्टे भरे दिखे जिनमें से कुछ छिलके ट्रक में फैले हुए दिखे जो अवैध मादक पदार्थ डोडाचूरा के होना प्रतीत हुआ। हम्मालों की मदद से ट्रक के अन्दर रखे आटे के कट्टे को गिनती कर के कुल 140 कट्टे तथा आटे के कट्टों के नीचे छिपे काले रंग के कट्टों को उतरवा कर गिनती की गई तो कुल 150 कट्टे मिले। काले रंग के प्रत्येक कट्टे को अलग अलग खोलकर चेक करने पर भूरे रंग के छिलके और कलीदार डोडे मिले। इसके बाद पुलिस ने डोडा चूरा की खेप को जप्त कर आरोपी ट्रक चालक गुरुसेवक को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए मादक पदार्थ डोडाचूरा का कुल वजन कुल 3000 किलो है जिसकी कीमत 60 लाख रुपये, प्रीमियम कंपनी के आटे के 140 कट्टे कीमत 1 लाख 40 हजार एवं तस्करी के लिए इस्तेमाल टाटा कंपनी का ट्रक जिसकी कीमत 25 लाख सहित पुलिस टीम ने आरोपी के कब्जे से कुल 86 लाख 40 हजार रुपये का मशरूका जप्त किया है।