राजगढ़ : राज्यवर्धन सिंह ने वापस ली विधायक निधि से दी हुई 47 लाख की राशि, यह है वजह

विधायक ने जिला प्रशासन पर आरोप लगते हुए कहा कि अप्रैल माह में राशि स्वीकृत की गई थी लेकिन अभी तक टेंडर भी नहीं हुए। मेरे बार-बार कहने पर भी काम शुरू नहीं किया गया।

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। राजगढ़ (Rajgarh) जिले के नरसिंहगढ़ (Narsinghgarh) विधायक राज्यवर्धन सिंह (MLA Rajyavardhan Singh) ने एक बार फिर से प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोला है। और इसकी वजह है ऑक्सीजन प्लांट। दरअसल उनके विधानसभा क्षेत्र में अप्रैल माह में ऑक्सीजन प्लांट के लिए 47 लाख की राशि विधायक निधि से देने के बाद भी प्रशासन द्वारा अभी तक टेंडर न बुलाए जाने को लेकर नाराजगी सामने आई है। विधायक ने जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए विधायक निधि से दी हुई राशि की अनुशंसा वापस ले ली। नरसिंहगढ़ विधानसभा में विधायक निधि से राशि देने के बाद भी ऑक्सीजन प्लांट नहीं लगाएं जाने पर विधायक ने कहा कोई बहुत बड़ा राजनीतिक षड़यंत्र है। विधायक की प्रशासन क्यों अनदेखी कर रहा है। इसके पहले भी अपने विधानसभा में बन रहे स्टापडेम में हुए करोड़ों के घोटाले के आरोप विधायक ने लगाएं थे और उस मामले में भी आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

यह भी पढ़ें…Jabalpur Accident : तेज रफ्तार कार ने बाइक को मारी जोरदार टक्कर, हादसे में मां-बेटे की मौत

नरसिंहगढ़ के महाराजा मेहताब सिविल अस्‍पताल में ऑक्सीजन प्‍लांट स्‍थापित करने हेतु विधायक निधि से नरसिंहगढ़ भाजपा विधायक राज्यवर्धन सिंह ने पूर्व में की गयी 47 लाख की अनुशंसा को निरस्‍त करने के लिए कलेक्टर राजगढ़ को पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में बताया कि कोरोना संक्रमण के दौरान ऑक्‍सीजन की कमी एवं उपलब्‍धता में हो रही कठिनाईयों के कारण मेरे द्वारा महाराजा सिविल अस्‍पताल नरसिंहगढ़ में ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगाये जाने हेतु विधायक निधि से सर्वप्रथम दिनांक 22/04/2021 को 47 लाख की राशि अनुशंसा की गई थी। उक्‍त राशि क्रियान्‍वयन एजेन्‍सी मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी को जारी भी कर दी गई थी। लेकिन आज दिनांक तक टेण्‍डर नहीं हुये। टेंडर न होने से आज तक आक्सीजन प्लांट का काम प्रारंभ नहीं हुआ, जिससे नाराज़ विधायक ने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए विधायक निधि से दी हुई राशि की अनुशंसा वापस ले ली।

राजगढ़ : राज्यवर्धन सिंह ने वापस ली विधायक निधि से दी हुई 47 लाख की राशि, यह है वजह

विधायक का आरोप
नरसिंहगढ़ विधायक ने जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिले में सर्वाधिक तीव्रता से कोरोना संक्रमण नगर नरसिंहगढ़ एवं ब्‍यावरा में फैला था। और सबसे ज्यादा मौतें भी नरसिंहगढ़ एवं ब्यावरा में हुई। मेरे विधानसभा में ज्यादा मरीजों को देखते हुए विधायक निधि से राशि स्‍वीकृति की गई थी, कोरोना से लोगों की मृत्‍यु जैसी भयावह स्थिति में भी नरसिंहगढ़ ऑक्‍सीजन प्‍लांट की स्‍थापना नहीं हो सकी, आज तक टेंडर भी नहीं बुलाएं गया। जिले के ब्यावरा, खिलचीपुर, राजगढ़ एवं सारंगपुर में आक्सीजन प्लांट की प्रक्रिया शुरू हो गई, सारंगपुर में ऑक्सीजन प्लांट भी तैयार हो गया। लेकिन नरसिंहगढ़ विधानसभा में टेंडर तक नहीं हुए। नरसिंहगढ़ विधानसभा के साथ ऑक्सीजन प्लांट लगाने में कोई बहुत बड़ा राजनीतिक षड़यंत्र हुआ है। कहीं न कहीं राजनीतिक रूप से मेरे कार्यों को दबाने का प्रयास किया जा रहा है।

https://vimeo.com/570278531