राजगढ़ में ब्लैकमेलिंग से परेशान ASI ने ज़हर खाकर दी जान, मौत के पहले गाना गाते हुए वीडियो वायरल

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। “मेरे नैना सावन भादो,फिर भी मेरा मन प्यासा, फिर भी मेरा मन प्यासा ” । गाना अचानक से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लेकिन इस गाने का ओरिजिनल वर्जन नहीं है यह गाना गाया है सोशल मिडिया पर सुरीली आवाज में एक ASI ने। जिनका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है । वीडियो जिस ASI को आप गाना गाते देख रहे है । उनका नाम राजेन्द्र मालवीय है । राजेन्द्र मालवीय ने एक महिला की ब्लैकमेलिंग ने परेशान होकर जहर खा कर आत्महत्या कर ली है । बताया जा रहा है यह वीडियो उनकी मौत से कुछ दिनों पहले का है । ASI राजेन्द्र मालवीय को सिंगिंग का बहुत शौक था । वहां अक्सर अपने दोस्तों के साथ फ्री समय पर गाना गाते थे।

यहां भी देखें-  News: भ्रष्टाचार अधिकारी पर बड़ी कार्रवाई, सरकारी योजना में रिश्वत लेने पर सुनाई गई जेल की सजा

पूरे मध्यप्रदेश में जिस नरसिंहगढ़ के बारेलाल बैंड के नाम का डंका बजता है । उसी बैंड के मालिक बारेलाल मालवीय के पुत्र थे ASI राजेन्द्र मालवीय , नरसिंहगढ़ के बारहद्वारी मोहल्ले में रहने राजेन्द्र मालवीय ने पढाई में कॉमर्स से बीकॉम कर रखा था ,जब वह नरसिंहगढ़ कालेज में पढाई कर रहे थे उसी दौरान राजेन्द्र के पिता का निधन हो गया था पिता की मौत के बाद 1995 में पुलिस भर्ती में उनका चयन हो गया था,।

यहां भी देखें- MP News : BJP ने युवा मोर्चा के इन पदाधिकारियों को दी नई जिम्मेदारी

ASI राजेन्द्र मालवीय के शादी के बाद तीन बच्चे है जिसमें एक लड़की , दो लड़के , बड़ी लड़की वैष्णवी( 21) , भावेश (12) , जयस (10) है । राजेन्द्र पिछले डेढ़ साल से ASI के पद पर करनवास थाने में पदस्त थे ।
बताया जा रहा है कि नरसिंहगढ़ के रहने वाले राजेन्द्र मालवीय की कुछ दिनों पहले राजगढ़ में उन्ही के गाँव की रहने वाली एक महिला से दोस्ती हो गई थी और फिर यह दोस्ती धीरे धीरे गहरी होती गई । आरोप है कि महिला करनवास थाने में पदस्त है ASI राजेन्द्र मालवीय को बहुत दिनों से ब्लैकमेल कर रही थी जिससे परेशान होकर करनवास थाने में पदस्थ ASI राजेन्द्र मालवीय 12 जनवरी बुधवार को दोपहर साढ़े तीन बजे करनवास के होटल अमर पैलेस में खाना खाने के दौरान सल्फास की दो गोली खाकर जान देने की कोशिश की जब उनकी तबियत तो होटल संचालक ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद ASI को ब्यावरा के संजीवनी अस्पताल ले गए जहां प्राथमिक उपचार के बाद उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें भोपाल रेफर किया गया है । भोपाल के चिरायु हॉस्पिटल में 10 दिन चले के बाद उन्हें LBS में भर्ती किया गया जहाँ दोनो किडनी खराब होने पर 28 जनवरी को ASI राजेन्द्र मालवीय की मौत हो गई । पुलिस ने की माने तो नरसिंहगढ़ की रहने वाली गीता मेवाड़े नाम की एक महिला ASI राजेन्द्र मालवीय को ब्लैकमेल कर परेशान कर रही थी जिससे परेशान होकर ASI ने जहर खा लिया था।

यहां भी देखें- MP News : सरकार का बड़ा फैसला- MBBS की पढ़ाई अब हिंदी में भी, तैयारी शुरू

 

जिसको लेकर पीड़ित की शिकायत पर ASI राजेन्द्र मालवीय को ब्लैकमेल करने वाली महिला गीता मेवाड़े पर धारा 384 के तहत करनवास थाने में मामला दर्ज कर लिया है । लेकिन उस समय महिला की थाने से जमानत हो गई थी लेकिन अब ASI की मौत के बाद मामले में धारा मेडिकल रिपोर्ट आने पर धारा बढाते हुए महिला को गिरफ्तार किया जाएगा।