MP: दंपती की मौत पर बवाल, गुस्साए लोगों ने ट्रक में लगाई आग, चक्काजाम, पुलिस पर पथराव

Angry-people-set-fire-in-truck-traffic-jam-Stone-pelting-after-husband-and-wife-died-in-road-accident-in-ratlam

रतलाम।

मध्यप्रदेश के रतलाम जिले में रविवार को एक ट्रक ने बाइक सवार दंपति को टक्कर मार दी। दोनों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने पत्नी को मृत घोषित कर दिया।वही पति ने इंदौर रेफर करने से पहले ही रास्ते में ही दम तोड़ दिया। दोनों की मौत के बाद से गुस्साए लोगों ने आज सोमवार को बवाल खड़ा कर दिया। सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करने लगे और खड़े ट्रक में आग लगा दी। जब दमकल और पुलिस की गाड़ी मौके पर पहुंचीं तो लोगों ने उन पर भी पत्थर बरसा दिए, जिससे एक गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। इसके बाद लोगों ने चक्काजाम कर दिया। स्थिति बिगड़ते देख आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराने की कोशिश की। लेकिन आक्रोशित लोग ने मृतकों के वारिसों को एक-एक करोड़ (दो करोड़) रुपए का मुआवजा देने, एक वारिस को सरकारी नौकरी देने की मांग करते रहे।हालांकि बाद मे आला अफसरों ने मामला शांत किया।इस दौरान घंटों जाम लगा रहा।

मिली जानकारी के अनुसार, रविवार को जिले के सैलाना थाना क्षेत्र में कोदर पत्नी के साथ ग्राम भेरूघाटा में रिश्तेदार के यहां आयोजित नौतरा कार्यक्रम में शामिल होने गया था। रात करीब आठ बजे वे दोनों बाइक से अपने घर लौट रहे थे, तभी पिपलौदा फंटे के पास ट्रक ने बाइक को टक्कर मार दी थी। हादसे में दोनों गंभीर रुप से घायल हो गए। दोनों को सैलाना के सरकारी अस्पताल ले जाया गया था, जहां डॉक्टरों ने पत्नी को मृत घोषित कर दिया। पति को हालत गंभीर होने पर इंदौर रेफर किया गया था। इंदौर ले जाने के दौरान रास्ते में पति की भी मौत हो गई थी। घटना की सूचना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया और वे आनन-फानन में घटनास्थल पर पहुंचे लेकिन मौके पर पुलिसकर्मियों को देख वापस लौट गए।

इसके बाद आज सोमवार सुबह किसी ने मौका पाकर ट्रक में आग लगा दी। पुलिस ने आग बुझाने के लिए सैलाना नगर परिषद की दमकल बुलाई। दमकल आने पर लोगों ने उस पर पथराव शुरू कर दिया और आग नहीं बुझाने दी। पुलिस का वाहन जाने लगा तो उस पर भी पथराव किया, जिससे वह क्षतिग्रस्त हो गया।गुस्साई भीड़ को काबू करने भारी मात्रा मे पुलिस बल मौके पर पहुंचा और उन्हें शांत कराने की कोशिश की। वही लोगों ने समझाइश देने पहुंचे अफसरों से मांग कि  मृतकों के वारिसों को एक-एक करोड़ (दो करोड़) रुपए का मुआवजा देने, एक वारिस को सरकारी नौकरी देने और पत्थरबाजी के मामले में किसी के खिलाफ प्रकरण दर्ज न किया जाए।बाद में रतलाम से एडीएम जितेंद्र चौहान व एएसपी डॉ. इंद्रजीतसिंह बाकरवाल मौके पर पहुंचे और गुस्साए लोगों को समझाइश देने का प्रयास किया। इसके बाद सुबह करीब साढ़े दस बजे चक्काजाम खत्म किया गया।इस दौरान घंटों जाम लगा रहा। वही