व्यापारी को गोली मारने के मामले में हथियार सप्लायर गिरफ्तार, पूछताछ जारी

रतलाम/सुशील खरे

रतलाम के जावरा फिरौती के लिए व्यापारी को गोली मारने के मामले में पुलिस ने हथियार सप्लायर दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। परवलिया निवासी ये युवक वारदात के मास्टर माइंड अरबाज लाला के रिश्तेदार हैं और उसी के कहने पर इन्होंने शूटर को पिस्टल व कारतूस उपलब्ध करवाए थे। व्यापारी की दुकान तक जाने और गोली मारने के बाद भागने तक का रास्ता भी इन्होंने ही शूटर को बताया था। पुलिस ने इन्हें राजस्थान में प्रतापगढ़ जिले के अखेपुर-कुलथाना के बीच खेतों से मंगलवार रात गिरफ्तार किया। रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

सीएसपी प्रदीपसिंह राणावत ने बताया 14 जुलाई की शाम 5.30 बजे 25 लाख रुपए की फिरौती के लिए अखेपुर निवासी मास्टर माइंड आरोपी रोशन लाला, उसके बेटे अरबाज लाला के कहने पर शूटर शाहनवाज निवासी मंदसौर एवं अजहर उर्फ अज्जू मिर्जा निवासी प्रतापगढ़ ने किराना व्यापारी हातिम अली को गोली मारकर घायल कर दिया था। इस मामले में शूटर शाहनवाज को हथियार उपलब्ध करवाने वाले दो और आरोपी इकबाल उर्फ फैजल पिता अजीज खान (27) निवासी परवलिया एवं उसके साथी कालू उर्फ सद्दाम पिता अजीज शाह (22) निवासी चितावदा थाना बिलपांक हालमुकाम परवलिया को गिरफ्तार कर लिया है। सिटी थाना प्रभारी वीडी जोशी एवं सब इंस्पेक्टर रघुवीर जोशी की टीम ने मंगलवार देर रात प्रतापगढ़ पहुंचकर दबिश दी। फिर अखेपुर एवं कुलथाना के बीच खेतों से इकबाल व कालू को गिरफ्तार कर लिया। इन्हें बुधवार को कोर्ट में पेश कर 24 जुलाई तक का रिमांड लिया है। थाना प्रभारी वीडी जोशी ने बताया इन दोनों से मुख्य आरोपी रोशन, अरबाज एवं मम्मू उर्फ शादाब के बारे में पूछताछ की जाएगी। फरार उन तीनों आरोपियों को भी शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इकबाल एवं कालू उर्फ सद्दाम को पुलिस ने रिमांड पर लिया है। सीएसपी राणावत ने बताया आरोपी इकबाल उर्फ फैजल लाला निवासी परवलिया अरबाज का रिश्तेदार है इसलिए अरबाज ने इकबाल के माध्यम से शूटर को हथियार उपलब्ध करवाए। इन दोनों ने व्यापारी के आने-जाने का रास्ता तथा वारदात के बाद आरोपियों को हुसैन टेकरी के पास होकर प्रतापगढ़ तरफ भगाने का रास्ता भी बताया था। यही नहीं वारदात वाले दिन ये शूटर के पीछे-पीछे जावरा तक यह देखने आए थे कि शूटर सही जगह जा रहा है अथवा नहीं। वे कोई चूक तो नहीं कर रहे हैं। इन पर भी एसपी गौरव तिवारी ने 10-10 हजार का इनाम घोषित किया था। शाहनवाज व अज्जू काे जेल भेज दिया गया है।