लोकायुक्त के जाल में फंसा लेखपाल, रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार

रतलाम।

एमपी में रिश्वत का खेल लगातार जारी है। आज रविवार को छुट्टी के दिन लोकायुक्त ने फिर बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने  मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में पदस्थ लेखपाल को 8000  हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।फिलहाल कार्रवाई जारी है। लोकायुक्त ने आरोपी लेखपाल के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, रतलाम जिले के बाल चिकित्सालय में लोकायुक्त की टीम ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में पदस्थ लेखपाल को  8000 रूपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। यह कार्रवाई उज्जैन लोकायुक्त द्वारा की गई है।आरोप है कि लेखपाल ने जीपीएफ की राशि जारी करने के लिए बाल चिकित्सालय की सिस्टर इंचार्ज रानी नेलसां से रिश्वत की मांग की थी।जिसकी शिकायत उन्होने उज्जैन लोकायुक्त से की। इसी के आधार पर टीम ने आज योजना बनाकर लेखपाल को रंगेहाथों गिरफ्तार कर किया।टीम ने जब लेखपाल के हाथ धुलवाए तो गुलाबी हो गए। फिलहाल लेखपाल के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है और कार्रवाई जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here