खाद लूट मामले में कांग्रेस विधायक मनोज चावला फरार घोषित, कुर्क की जाएगी संपत्ति

Fertilizer loot case: रतलाम के आलोट में हुए खाद लूट मामले में विधायक मनोज चावला (MLA Manoj Chawla) का नाम सामने आया था। घटना के बाद से ही विधायक फरार है और जगह-जगह उनकी तलाश की जा रही है। लगभग 1 महीना गुजर गया है लेकिन अब भी विधायक पकड़ में नहीं आए हैं। जिसके चलते अब उन्हें फरार घोषित कर दिया गया है।

10 नवंबर को सर्वर डाउन होने के चलते किसानों को खाद वितरण में समस्या हुई थी। मौके पर पहुंचे विधायक मनोज चावला और कांग्रेस नेता योगेंद्र सिंह जादौन ने मौके पर पहुंचकर किसानों को गोदाम का शटर खोलकर खाद उठाकर ले जाने को कहा था। विधायक के कहने के बाद कई किसानों ने गोदाम से खाद की बोरियां भी उठा ली थी। इसके बाद जब स्टॉक का मिलान किया गया तो यहां पर 28 बोरी खाद कम पाई गई थी। इस पर विधायक चावला, नेता जादौन और अन्य लोगों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा और लूट का मामला दर्ज कर लिया गया था।

कांग्रेस नेता जादौन को पुलिस ने उसी दिन गिरफ्तार करते हुए इंदौर के न्यायालय में पेश किया था, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया था। लेकिन विधायक मनोज चावला गिरफ्त में नहीं आए थे और लगातार उनकी तलाश की जा रही थी। इंदौर, भोपाल सहित सभी जगह उनकी तलाश की गई है लेकिन कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा है। विधायक अपने करीबियों के संपर्क में भी नहीं है। उनकी ओर से न्यायालय में अग्रिम जमानत का आवेदन पेश किया गया था जिसे निरस्त कर दिया गया था। उनकी तलाश किए जाने पर भी वो नहीं मिले तो एक प्रतिवेदन न्यायालय में लगाया गया था, जिसके बाद उन्हें फरार घोषित कर दिया गया है। उन्हें 22 दिसंबर तक न्यायालय में पेश होने के आदेश जारी किए गए हैं लेकिन अगर वह उपस्थित नहीं होते हैं तो उनकी संपत्ति कुर्क की जाएगी।