विभु…. तुम हमेशा जिंदा रहोगे, कांग्रेस विधायक के बेटे की अंतिम विदाई में हुई हर आँख नम

जबलपुर, संदीप कुमार। कांग्रेस विधायक संजय यादव के बेटे का शुक्रवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया, 17 साल के विभव यादव की शवयात्रा में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए, विभु की अंतिम विदाई का यह मौक़ा सबको रुला गया, पिता संजय यादव के आंसू थमनें का नाम नही ले रहे थे, वही माँ सीमा को तो विश्वास ही नही हो रहा था कि अब विभु कभी लौटकर नही आएगा, वही विभु के भाई का भी रो रोकर बुरा हाल है। अंतिम यात्रा में शहर के प्रशासनिक पुलिस अधिकारियों समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता, भाजपा नेता सहित आमजन शामिल हुए, गौरतलब है कि कांग्रेस विधायक संजय यादव के 17 साल के बेटे विभु ने गुरुवार को घर में उस वक़्त गोली मार ली थी जब वह अकेला था, मौत को गले लगाने से पहले विभु ने 5 पन्नो का सुसाइड नोट भी लिखा है। हालांकि उसमें उसने किसी भी तरह की परेशानी होने से इंकार किया है। विभु ने लिखा है कि मम्मी-पापा बहुत अच्छे है, मुझे कोई तकलीफ नही है, अपने 5 दोस्तों को भी उसने अलविदा लिखा है।

नाबालिगों पर फेसबुक का प्यार पड़ा भारी, प्राइवेट रिलेशन बनाने से लड़की पहुंची अस्पताल, तो लड़का जेल

विभु.... तुम हमेशा जिंदा रहोगे, कांग्रेस विधायक के बेटे की अंतिम विदाई में हुई हर आँख नममुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी विधायक संजय यादव से फोन पर शोक प्रकट कर सांत्वना दी है। गुरुवार को ही इस घटना में विभु ने दाई कनपटी पर अपने विधायक पिता की बंदूक से सिर पर सटाकर खुद को गोली मार ली थी, शुक्रवार सुबह नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया गया, बताया जा रहा है कि  कनपटी पर लगी गोली मस्तिष्क की हड्डी को तोड़ते हुए उसी में में फस गई थी जिसकी वजह से वह दूसरी तरफ से बाहर नहीं निकल पाई, फॉरेंसिक विभाग अध्यक्ष डॉ. विवेक श्रीवास्तव ने शव का पोस्टमार्टम किया, विधायक संजय यादव की लाइसेंसी रिवाल्वर से चली गोली विभु के मस्तिष्क के बीच में मिली गोली को बाहर निकाल लिया गया है जिसकी फॉरेंसिक जांच कराई जा रही है।