खेत में विस्फोट, किसान की मौत

रतलाम, डेस्क रिपोर्ट। रतलाम जिले के ग्राम रत्तागढ़खेड़ा में खेत पर काम करने के दौरान किसान के मोटर चालू करते ही अचानक तेज विस्फोट हो गया, विस्फोट इतना तेज था कि किसान के शरीर के टुकड़े टुकड़े होकर इधर इधर फैल गए। बताया जा रहा है कि विस्फोटक टोटे (डायनामाइट) फटने से एक किसान की दर्दनाक मौत हो गई। घटना को लेकर ग्रामीणों में खासी नाराजगी है और पुलिस से जांच की मांग करते हुए उन्होंने इसे हत्या बताया है।

यह भी पढ़े.. जिला क्राइसिस मीटिंग में बोले मंत्री – कोरोना से निपटने तैयारी पर्याप्त, बुधवार से शुरू होगी सख्ती

घटना रतलाम जिला मुख्यालय से 30 किमी दूर रत्तागढ़खेड़ा का है। जहां मंगलवार की सुबह-सुबह खेत में सिंचाई करने गए किसान 33 वर्षीय लालसिंह पुत्र नरसिंह पहुंचा और उसने खेत में सिंचाई करने के लिए जैसे ही मोटर ऑन की अचानक जोर की आवाज के साथ विस्फोट हो गया, ग्रामीणों की माने तो मोटर के नीचे किसी ने टोटे (डायनामाइट) लगा इए जो मोटर चालू करते ही फट गए। हादसे में किसान की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। धमाके की जगह गहरा गड्ढा हो गया।  टोटे (डायनामाइट) किसने लगाए, पता नहीं चल पाया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़े.. मुरैना में कोरोना ने दी दस्तक, एक युवक निकला पॉजिटिव

घटना को लेकर ग्रामीणों में खासी नाराजगी है, इस इलाके में कुछ महीने भी इसी तरह की घटना हुई थी। गांव में पहले भी इस प्रकार कुएं को गहरा करने में उपयोग किए जाने वाले टोटे के फटने से पूर्व सरपंच बाल-बाल बचे थे। यह घटना मंगलवार को हुई घटना स्थल से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर ही हुई थी। पूर्व सरपंच भंवरलाल डोडिया ने अपने खेत पर सिंचाई करने के लिए मोटर चालू की ही थी। तब टोटे फट गए, जिसमें वे बुरी तरह से घायल हुए थे। ग्रामीणों का कहना है की घटना को किसी ने जानबूझकर अंजाम दिया है और अगर पुलिस ने जल्द ही आरोपियों को नहीं पकड़ा तो ग्रामीण जोरदार प्रदर्शन करेगें।