प्रेम प्रसंग के चलते बालगृह से भागी पांचो नाबालिग, मंदसौर में मिली

five-girls-return-to-shelter-home-in-mandsaur

रतलाम। मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के  कुंदन कुटीर बालगृह (बालिका) से गुरूवार दोपहर पांच नाबालिग बालिकाएं फरार हो गईं थी। बालिकाएं बालगृह के टायलेट का ग्रील तोड़कर फरार हो गई थी। जिसकी सूचना बालगृह अधीक्षिका ने औद्योगिक क्षैत्र थाना पर दी। जिस पर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे। सूचना मिलने पर एसडीएम एमएल आर्य और महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी मौके पर पहुंचे और पंचनामा बनाया। देर शाम को मंदसौर से बालिकाओं की बरामदगी भी हो गई है। अधिकारियों के अवलोकन के दौरान सीसीटीवी केमरे बंद होने की बात सामने आई।

गुुरुवार को दोपहर करीब 12 बजे कुंदन कुटीर बालगृह (बालिका) पर आश्रय प्राप्त करीब पांच बालिकाऐं बालगृह की दूसरी मंजील पर बनी टायलेट की लोहे की ग्रील को तोडक़र समीप की छत से होकर भाग निकली। बालगृह अधीक्षिका हंसा पाठक द्वारा आईए थाने पर दिए गए आवेदन में बताया कि 21 जनवरी 2019 को बालिका गृह में पहुंची एक नाबालिक प्रेम प्रसंग के चलते संस्था को छोडक़र जाना चाहती थी, लेकिन उसे जाने नहीं दिया जा रहा है, इस पर नाबालिक ने यहां से भागने की योजना बनाई और अपने साथ इस योजना में चार और बालिकाओं को शामिल करते हुए गुरुवार को दोपहर करीब 12 बजे बालिकागृह की दूसरी मंजील पर बने टॉयलेट में बने वेटीलेशन की ग्रील तोडक़र समीप की छत से होकर भाग निकली। करीब दो घंटे तक बालिका गृह के कर्मचारियों द्वारा इन्है ढूढंने का प्रयास किया गया, लेकिन जब नहीं मिली तो दो घंटे बाद पुलिस को आवेदन दिया गया। आवेदन के बाद थाना प्रभारी बीएल सोलंकी दल बल सहित बालिका आश्रयगृह पहुंचे और तफ्तीश शुरु की।