रतलाम, सुशील खरे रतलाम। तलाम के जावरा विधानसभा और जिले के सबसे सीनियर और वरिष्ठ भाजपा विधायक डॉ राजेन्द्र पांडेय (bjp mla dr.rajendra pandey) की कोरोना (corona) रिपोर्ट पहले पॉजिटिव (positive) फिर निगेटिव (negetive) आने के बाद उन्होंने अपने आप को होम क्वारेंटाइन कर लिया था। सोमवार को म.प्र. विधानसभा के बजट सत्र (budget session) में विधायक डॉ राजेन्द्र पांडेय वर्चुअली सम्मिलित हुए।

सत्र के प्रथम दिन विधानसभा अध्यक्ष का निर्वाचन हुआ। अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित गिरीश गौतम को विधायक डॉ पांडेय ने बधाई प्रेषित की। बाद में राज्यपाल आंनदी बेन पटेल ने अपना अभिभाषण प्रस्तुत किया। जावरा विधायक डॉ पांडेय होम क्वारेंटाइ हैं और वे आगामी कुछ समय विधानसभा में वर्चुअली रूप से सम्मिलित होंगे।

बता दें कि शुक्रवार को विधानसभा सत्र के पूर्व हुई जांच में विधायक कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जब उनका पहला सैम्पल लिया गया था, उस समय भी उनका स्वास्थ्य पूरी तरह ठीक था, लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद विधायक होम क्वारेंटाइन हो गए थे। लेकिन इस रिपोर्ट को लेकर उन्होने सन्देह व्यक्त किया था, तो स्वास्थ्य विभाग ने उनका दोबारा सैम्पल लिया। दूसरी बार डा. पाण्डेय का सैम्पल लेने स्वयं सीएमएचओ डा. प्रभाकर ननावरे जावरा पहुंचे थे। शनिवार को डा. पाण्डेय का दोबारा सैम्पल लिया गया था और रविवार को उनकी दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आ गई। लेकिन कोरोना निगेटिव रिपोर्ट आने के बावजूद डा.पाण्डेय ने स्वेच्छा से सात दिन तक होम क्वारेंटाइन रहने की घोषणा की है, ताकि उनसे मिलने जुलने वालों को किसी प्रकार की दुविधा ना रहे। डा. पाण्डेय विधानसभा की कार्यवाही में वर्चुअली उपस्थित रहेंगे। उन्होने विधानसभा सचिवालय से विधानसभा सत्र में वर्चुअली उपस्थित रहने का निवेदन किया जिसके बाद वे सोमवार को वर्चुअली विधानसभा सत्र में शामिल हुए। फिलहाल विधायक ने जिले की भ्रष्ट स्वास्थ्य व्यवस्था और विभाग को लेकर 64 प्रश्न लगाए हैं और संभावना ये भी जताई जा रही है कि शायद इसी कारण उनको विधानसभा में जाने से रोका जा रहा था, जैसा उनका आरोप था। अब देखना है कि उनके इन प्रश्नों में क्या आरोप थे और उसपर क्या जवाब मिलता है।