Ratlam News: डूबते बेटे को बचाने नदी में उतरे पिता, खुद की जान गवा कर दी बेटे को ज़िन्दगी

हादसे के बाद पुलिस और सर्चिंग टीम मौके पर पहुंची और डूबे हुए गोपाल सोनी की तलाश कर रही है, फिलहाल अभी तक उनका कोई भी पता नहीं चल पाया है।

रतलाम, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) के रतलाम (Ratlam) जिले के एक घर में उस वक्त मातम छा गया, जब एक पिता अपने बेटे की जान बचाते-बचाते खुद काल के गाल में समा गया। दरअसल, शनिवार को विसर्जन के दौरान डूबने से 35 वर्षीय गोपाल सोनी उर्फ़ पप्पू की मौत हो गई। फिलहाल, मृतक की तलाश जारी है।

यह भी पढ़ें…शादी के लिये फर्जी खाकी का दम! ASI बनकर युवती से की सगाई, शक होने पर हुआ चौंकाने वाला खुलासा

जानकारी के अनुसार जिले के आलोट निवासी सोनी परिवार शनिवार को मूर्ति विसर्जन करने के लिए शिप्रा नदी गया हुआ था। जहां गोपाल सोनी, उनके बड़े भाई कमल सोनी और उनके दोनों बेटे 12 वर्षीय वात्सल्य और 8 वर्षीय तनवेश सोनी विसर्जन के बाद नदी के किनारे हाथ-मुंह धो रहे थे और तभी अचानक छोटा बेटा तनवेश गहरे पानी में चला गया और डूबने लगा, अपने बेटे को डूबता देख गोपाल उसे बचाने के लिए पानी में उतरे, जहां उन्होंने अपने बेटे की जान तो बचा ली लेकिन खुद अपनी जान गवा बैठे।

बेटों से कहा था आ रहा हूं बाहर
मृतक के बड़े बेटे वात्सल्य ने बताया कि बड़े पापा और पापा के साथ हम सभी मूर्ति विसर्जन करने के लिए गए थे । जहां मेरा छोटा भाई तनवेश बड़े पापा के साथ हाथ मुंह-धो रहा था और तभी वह गहरे पानी में चला गया। जिसके बाद उसे डूबता देख पापा और बड़े पापा पानी में उतरे और भाई को पानी से बाहर निकाल दिया। वात्सल्य ने आगे बताया कि पापा ने उसे आवाज देकर कहा था कि मैं बाहर आ रहा हूं लेकिन वह अब तक नहीं आए। जब इस हादसे की सूचना सोनी परिवार को लगी तो पूरे घर में मातम छा गया।

Ratlam News: डूबते बेटे को बचाने नदी में उतरे पिता, खुद की जान गवा कर दी बेटे को ज़िन्दगी

इस दर्दनाक हादसे के बाद पुलिस और सर्चिंग टीम मौके पर पहुंची और डूबे हुए गोपाल सोनी की तलाश कर रही है, फिलहाल अभी तक उनका कोई भी पता नहीं चल पाया है।

यह भी पढ़ें… MP Politics: कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह का ट्वीट- फिर भी निर्णय ऊपर से होते हैं