नगर निगम आयुक्त ने पेयजल वितरण का जायजा लिया,व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश

रतलाम/सुशील खरे

नगर निगम आयुक्त सोमनाथ झारिया ने मंगलवार को शहर में पेयजल वितरण के मुख्य केंद्र धोलावाड़ डेम व मोरवानी फिल्टर प्लांट का औचक निरीक्षण किया। उन्होने यहां से शहर को वितरण हो रहे पेयजल कार्य का पूरा निरीक्षण किया। इस दौरान कर्मचारियों को कहा कि वे अपना कार्य पूरी इमानदारी व मेहनत से करें, क्योंकि जलसेवा सबसे बड़ी सेवा कही गई है। इसके पूर्व सुबह उनके द्वारा शहर की विभिन्न टंकियों का निरीक्षण भी किया गया। निरीक्षण के दौरान एक मोटर पंप खराब मिला जिसको तुरंत ठीक करवाने को कहा।

निगम आयुक्त झारिया धोलावाड़ के दोनों इन्टकवेल का निरीक्षण करने के बाद मोरवानी फिल्टर प्लांट पहुंचे। खराब मोटर पंप को तुरंत सुधारकार्य करवाने को कहा। मोरवानी फिल्टर प्लांट के निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने पानी को फिल्टर कर शहर की टंकियों तक पहुंचाने की जानकारी ली। प्लांट के मोटर पम्पों को चालू स्थिति में रहें इसका विशेष ध्यान रखा जाये, ताकि नागरिकों किसी प्रकार से पेयजल की समस्या का सामना ना करना पड़े। इस दौरान टंकियों का भी निरीक्षण हुआ। निगम आयुक्त झारिया ने सुबह मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना के तहत ग्लोबर कालोनी, विनोबा नगर व दीनदयाल नगर की नवीन पेयजल टंकी व दीनदयाल नगर की पुरानी टंकी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने टंकियों से जिन-जिन क्षेत्रों में पेयजल सप्लाय किया जाता है कि जानकारी लेकर ऐसे क्षेत्र जहां कम दबाव से पानी मिल रहा है उन क्षेत्रों का परीक्षण कर समस्या का निराकरण किया जाये। निरीक्षण के दौरान उन्होने निर्देशित किया कि नवीन पेयजल टंकी की सुरक्षा की दृष्टि से टंकी परिसर की बाउण्ड्रीवॉल निर्माण हेतु एस्टीमेट तैयार किया जाये साथ ही टंकियों की नियमित सफाई करवाई जाये। इस दौरान कार्यपालन यंत्री सुरेशचन्द्र व्यास, प्रभारी सहायक यंत्री श्याम सोनी, उपयंत्री बीएल चौधरी, सत्यप्रकाश आचार्य, सुहास पंडित के अलावा जितेन्द्र सिसोदिया आदि उपस्थित थे।