कोरोना से लड़ने के लिये निजी अस्पताल भी करेंगे प्रशासन का सहयोग

रतलाम। सुशील खरे। कोरोना वायरस को लेकर जिले के निजी अस्पताल संचालकों की बैठक संपन्न। रतलाम दिनांक 21 मार्च 2020। रतलाम जिले के न्यू कलेक्टरेट सभाकक्ष में रतलाम जिले के प्राइवेट नर्सिंग होम संचालकों की बैठक आयोजित की गई । बैठक में कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने निजी अस्पताल के संचालको से कोरोना वायरस से निपटने के लिए सभी प्रकार का सहयोग करने की बात कही । कलेक्टर ने कहा कि निजी अस्पताल के पैरामेडिकल स्टाफ की भी ड्यूटी लगाई जाए । वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए मेडिकल रिस्पांस टीम का पहले से गठन कर लिया जाए । सीएमएचओ को निर्देशित किया गया कि जिले में उपलब्ध चिकित्सकों की विशेषज्ञता अनुसार नामजद ड्यूटी लगाई जाए तथा आइसोलेशन वार्ड में कार्यरत कर्मचारियों का पूरा प्रशिक्षण किया जाए । कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने के बाद प्रशिक्षण की मॉक ड्रिल कर ली जाए । मरीजों का सैंपल लेने वाले कर्मचारियों और चिकित्सकों की नामजद ड्यूटी लगा दी जाए । कलेक्टर ने निजी अस्पताल के संचालक को अपने पास इंफ्रारेड थर्मोमीटर उपलब्ध रखने को कहा । सीएमएचओ डॉ प्रभाकर ने बताया कि नई गाइड लाइन के अनुसार ऐसे सभी मरीज जिनमें कोरोना वायरस के लक्षण दिख रहे हैं और जो पिछले 14 दिन के भीतर विदेश यात्रा करके लोटे हो । ऐसे सभी मरीज जिनमें कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं तथा जो कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आए हो । सभी कोरोना वायरस के लक्षणों वाले स्वास्थ्य सेवा प्रदाता । अस्पतालों में आने वाले ऐसे मरीज जिनका जिनको गंभीर निमोनिया की शिकायत हो । ऐसे सभी मरीज जो कोरोनावायरस के पॉजिटिव मरीजों के साथ उनके घर पर साथ में रहे हो । सभी स्वास्थ्य सेवा प्रदाता जिन्होंने बिना सावधानी रखे कोराना वायरस के मरीजों की देखभाल की हो का सैंपल लिया जाएगा ।पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी ने सभी प्रकार की मेडिसिन का स्टॉक उपलब्ध रखने की बात कही । पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी अस्पताल संचालक अपने अस्पताल में पूरी तरह सैनिटाइजेशन करें तथा अस्पताल की बेंच आदि को बार-बार सेनीटाइज करें । मेडिकल स्टोर के काउंटर को भी बार-बार सेनिटाइज किया जाए । मेडिकल स्टोर पर दवा प्रदान करने वाला कर्मचारी भी ग्लोब्स पहने ताकि किसी भी तरह संक्रमण का फैलाव ना हो सके । निजी अस्पताल संचालकों ने सभी प्रकार का सहयोग करने की बात कही ।बैठक के दौरान जिला एपिडेमियोलॉजिस्ट प्रमोद प्रजापति डीपीएम डॉक्टर अज़हर अली भरत लिंबोडिया तथा अन्य चिकित्सक अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। निजी अस्पताल संचालकों ने सहयोग करने की बात कही।