पत्नी के सामूहिक बलात्कार के आरोपी को दी रोंगटे खड़े कर देने वाली मौत

रतलाम, डेस्क रिपोर्ट। पत्नी के सामूहिक बलात्कार के आरोपी को पति ने ही ऐसी मौत दी कि सुनने वालों के रोंगटे खड़े हो जाए, दरअसल घटना रतलाम के एक गांव की है, यहाँ  तीन लोगों ने एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार  किया और पीड़िता और उसके पति को धमकाया की अगर किसी से बताया तो उसकी जान ले लेंगे, जान के डर से पति पत्नी चुप रहे लेकिन अंदर ही अंदर जल रही आग ने पति को इतना मानसिक रूप से विवश कर दिया की बदला लेने के लिए पीड़िता के पति ने एक आरोपी को बम से उड़ा दिया, पति अन्य दो आरोपियों को भी मारने की साजिश रच रहा था लेकिन उससे पहले ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों को जल्द मिल सकता है पुरानी पेंशन योजना का लाभ, हाथ आएगी मोटी रकम!

दरअसल रतलाम जिले के एक गांव में बीती 4 जनवरी को बम लगाकर एक किसान की बेरहमी से हत्या करने का मामला सामने आया था, किसान की मौत इतनी दर्दनाक थी कि शव के चिथड़े उड़ गए थे, मौके पर पुलिस ने पहली नजर में ही ताड़ लिया था की प्लान बनाकर की गई हत्या का मामला है और पहले से ही विस्फोटक को पूरा प्लान कर मोटर के स्टार्टर से जोड़ा गया है, इसके बाद पुलिस ने एसआईटी गठित कर मामले की जांच शुरू की।

जांच के दौरान जब पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि गांव से एक दंपति हत्या वाले दिन से ही गायब हैं। पूछताछ करने पर पता चला की दंपति धार्मिक स्थल की यात्रा पर है लेकिन जब उनका मोबाइल फोन मिलाया गया तो वह बंद मिला, इसके बाद पुलिस का दंपति पर शक गहरा गया, पुलिस ने जांच कर दंपति को एमपी के मंदसौर से हिरासत में ले लिया।

यह भी पढ़े.. नरोत्तम मिश्रा का तंज, कांग्रेस ने जैसे मनमोहन सिंह को रिमोट से चलाया यही स्थिति चन्नी की भी

पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेने के बाद जब पूछताछ की तो जो कहानी सामने आई उसने पुलिस को भी चौंका दिया, पति सुरेश ने बताया कि उसने जनवरी की रात मृतक लालसिंह के खेत में जिलेटिन और डेटोनेटर को गाड़ दिया था और उसका कनेक्शन मोटर के स्टार्टर से कर दिया था, जैसे ही किसान ने मोटर चलाने के लिए उसे स्टार्ट किया धमाके से उसके शरीर के चिथड़े उड़ गए। पुलिस ने जब हत्या की वजह पूछी तो आरोपी सुरेश ने चौंकाने वाला खुलासा किया, सुरेश ने बताया कि मृतक लालसिंह और उसके दो साथियों भंवरलाल और दिनेश ने एक साल पहले उसकी पत्नी के साथ सामूहिक बलात्कार किया था, आरोपियों ने घटना के बारे में किसी को भी नहीं बताने की धमकी दी थी, उसके बाद से ही सुरेश बदले की आग में जल रहा था और इसी बदले के चलते उसने तीनों की हत्या करने की साजिश रच डाली।

आरोपी सुरेश की माने तो लालसिंह की तरह ही वह पत्नी के रेप के दो अन्य आरोपियों को भी मारने का प्लान तैयार कर चुका था, पूछताछ में सुरेश ने बताया कि उसने विस्फोट के लिए डेटोनेटर और जिलेटिन पास के एक गांव के बद्री पाटीदार से लिए थे, बद्री अवैध रूप से जिलेटिन और डेटोनेटर बेच रहा था। फिलहाल पुलिस ने हत्या के आरोप में सुरेश को गिरफ्तार कर लिया है और अवैध रूप से जिलेटिन और डेटोनेटर बेचने के आरोप में बद्री को भी गिरफ्तार किया गया है, वहीं पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों मृतक लालसिंह, भंवरलाल, दिनेश के खिलाफ भी मामला दर्ज कर भंवरलाल और दिनेश को गिरफ्तार कर लिया है।