मप्र में भाजपा नेता की हत्या, सिर पर हथियार के निशान, मचा बवाल

BJP-leader-Gyan-Singh-murder-in-Rewa-madhy-pradesh

रीवा। मध्यप्रदेश में हत्याओं का सिलसिला खत्म होने का नाम नही ले रहा है। अब रीवा में भाजपा नेता ज्ञान सिंह गहरवार की हत्या का मामला सामने आया है। घटना के बाद से ही शहर में बवाल मच गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। वही शव को पीएम के लिये भेज दिया गया है, घटना किस वजह से हुई कारणों का पता नही चल सका है। आरोपियों को पकड़ने पुलिस लगातार सबूतों को जुटाने में लगी हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार, रीवा के सेमरिया थाना की शाहपुर पुलिस चौकी के पास हिनौता रोड पर बीती रात बीजेपी नेता ज्ञान सिंह गहरवार की हत्या कर दी गई। पुलिस के मुताबिक अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियारों से ज्ञान सिंह पर हमला किया और  मौके से फरार हो गए।गहरवार के सिर और शरीर में धारदार हथियार के निशान मिले है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तो ज्ञान सिंह की लाश बीच सड़क पर पड़ी हुई थी।पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेज दिया है। रिपोर्ट आने के बाद हत्या का खुलासा हो पाएगा। हत्या किसने की और इसके पीछे क्या साजिश थी अभी तक इस बारे में कुछ भी स्पष्ट नही हो पाया है।वही घटनाक्रम के बाद पूरे शहर के लोगों में आक्रोश है और वे जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़ने की मांग किए हुए है।

फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है वहीं इलाके के भाजपा कार्यकर्ताओं में इस हत्याकांड के बाद जमकर नाराजगी है।घटनाक्रम के बाद एक बार फिर पुलिस प्रशासन औऱ सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खडे हो रहे है।चुंकी देशभर में आचार संहिता लगी हुई है, चप्पे चप्पे पर पुलिस मुस्तैद है बावजूद इसके सरेआम नेता की हत्या कर दी गई ।अपराधी बेखौफ और निर्भय होकर बडी वारदात को अंजाम दे रहे हैं। बता दे कि ज्ञान सिंह जो रॉयल राजपूत संगठन के पूर्व पदाअधिकारी राहुल सिंह के पिता है, ज्ञान सिंह उर्फ ज्ञान काकू जिले के नामचीन स्पोर्ट मैंन भी रह चुके थे। सिंह शार्किन के पूर्व मैनेजर भी रह चुके है।

गौरतलब है कि यह पहला मामला नही है। इसके पहले भी इंदौर, मंदसौर समेत कई जिलों मे नेताओं की हत्या के मामले सामने आ चुके है। बीते दिनों ही एक कांग्रेस नेता की हत्या कर दी गई थी। लगातार हो रहे इन हमलों के कारण  कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठने लगे है।

भाजपा नेता ज्ञान सिंह गहरवार की हत्या कर दी गई है।