कमिश्नर डॉ. भार्गव मीजल्स-रूबेला अभियान में राष्ट्रीय स्कॉच अवार्ड से सम्मानित

रीवा। मीजल्स-रूबेला अभियान में कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव को उनके असाधारण योगदान, उत्कृष्ट कार्य निष्पादन, नेतृत्व क्षमता, प्रबंधकीय दक्षता, नवाचार एवं सकारात्मक पहल के लिए निजी क्षेत्र के देश के सर्वो’च प्रतिष्ठित राष्ट्रीय स्कॉच अवार्ड से पुरस्कृत किया गया है। यह अवार्ड प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार परिषद भारत सरकार के चेयरमैन एवं विख्यात अर्थशास्त्री डॉ. बिबेक देवराय, सचिव जलशक्ति मंत्रालय भारत सरकार यूपी सिंह तथा स्कॉच फाउंडेशन के चेयरमैन समीर कोचर के कर कमलों से नई दिल्ली के हेबीटेट सेंटर में कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. भार्गव को प्रदान किया गया। स्कॉच अवार्ड भारत में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार, प्रशासनिक समन्वयता और जिले, संभाग व रा’य में किये गये नवाचारों के लिए प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार में देश के प्रतिष्ठित अर्थशास्त्री, समाजशास्त्री एवं योजना निर्माण में शामिल व्यक्तियों द्वारा अवार्ड की चयन प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी जाती है जो यह तय करते हैं कि किया गया नवाचार राष्ट्रीय मापदण्डों पर खरा उतरता है या नहीं। रीवा संभाग को पुन: यह गौरव प्राप्त हुआ है कि मीजल्स एवं रूबेला अभियान में रा’य में प्रथम स्थान प्राप्त करने के साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर भी पहचान प्राप्त हुई है। इसके पहले माह सितम्बर 2019 में दस्तक अभियान के सफल क्रियान्वयन में भी कमिश्नर रीवा संभाग डॉ. भार्गव को राष्ट्रीय स्कॉच अवार्ड से सम्मानित किया गया था। कमिश्नर डॉ. भार्गव ने इस उपलब्धि के लिए संभाग के चारों जिलों के कलेक्टर, सीईओ जिला पंचायत, नगर निगम के अधिकारियों, नगरीय निकाय के सीएमओ, सीईओ जनपद पंचायत, सीएमएचओ, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास विभाग, जेल विभाग, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम, आशा कार्यकर्ता, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा अन्य व्यक्तियों जिन्होंने इस अभियान में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से योगदान दिया आदि सभी के प्रति हार्दिक कृतज्ञता व्यक्त की है।