मप्र-उप्र बॉर्डर पर मजदूरों का हंगामा, बैरिकेड तोड़ किया प्रवेश

रीवा| लॉक डाउन (Lockdown) के बीच मजदूरों (Migrant Workers) की घर वापसी का दौर जारी है| लेकिन इस वापसी में मजदूरों को कई संकट से भी गुजरना पड़ रहा है| कई मजदूर हादसे के शिकार भी हो चुके हैं| वहीं अव्यवस्थाओं के कारण मजदूरों का सब्र भी टूट रहा है और प्रदेश की सीमा पर रोके जाने से लगातार मजदूरों के हंगामे के मामले सामने आ रहे हैं| रविवार को रीवा (Rewa) में मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश की सीमा (MP-UP Border) पर लगे हुए चाकघाट के पास मजदूरों ने जमकर हंगामा किया| इस दौरान स्तिथि को सँभालने पुलिस ने हल्का बल प्रयोग भी किया। मजदूरों ने बॉर्डर पर लगे बैरिकेड तोड़कर उत्‍तर प्रदेश की सीमा में जबरदस्‍ती प्रवेश कर लिया|

दरअसल, मध्य प्रदेश से होकर अन्य राज्यों को जाने वाले मजदूरों को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख चुके हैं| इस बीच सीमाओं पर मजदूरों रोके जाने से विवाद की स्थिति बन रही है| रीवा में रविवार को प्रवासी मजदूरों ने जमकर हंगामा मचाया| उत्तर प्रदेश से बसें न आने को लेकर मजदूरों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया और जाम लगा दिया| नाराज श्रमिकों ने पुलिस दल पर पथराव शुरू कर दिया जिन्हें रोकने को लेकर बल प्रयोग किया गया।

रीवा के चाकघाट क्षेत्र में हजारों की संख्‍या में प्रवासी मजदूर बेकाबू हो गए और उन्‍होंने दोनों राज्‍यों ( उत्‍तर प्रदेश और मध्‍य प्रदेश) के बॉर्डर पर लगे बैरिकेड तोड़कर उत्‍तर प्रदेश की सीमा में जबरदस्‍ती प्रवेश कर लिया|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here