लोकायुक्त ने 20,000 रुपये की रिश्वत लेते कलक्ट्रेट के क्लर्क को गिरफ्तार किया

किसान हरी लाल शाह ने शिकायत की थी कि कलेक्ट्रेट की भू अर्जन शाखा में पदस्थ सहायक ग्रेड 3 रविंद्र उससे भू अर्जन की मुआवजा राशि की फाइल भुगतान हेतु भेजने के बदले 20,000/- रुपये की रिश्वत मांग रहा है। 

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। लोकायुक्त पुलिस रीवा (Lokayukta Police Rewa) ने आज सिंगरौली कलेक्ट्रेट में पदस्थ क्लर्क को 20,000/- रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार (Collectorate clerk arrested for taking bribe) किया है। आरोपी क्लर्क एक किसान से भू अर्जन की मुआवजा राशि की फाइल भुगतान के लिए भेजने की एवज में रिश्वत ले रहा था।

लोकायुक्त पुलिस रीवा से मिली जानकारी के मुताबिक सिंगरौली जिले के ग्राम बिल्वर तहसील सरई निवासी किसान हरी लाल शाह ने शिकायत की थी कि कलेक्ट्रेट की भू अर्जन शाखा में पदस्थ सहायक ग्रेड 3 रविंद्र उससे भू अर्जन की मुआवजा राशि की फाइल भुगतान हेतु भेजने के बदले 20,000/- रुपये की रिश्वत मांग रहा है।

ये भी पढ़ें – बारिश के चलते प्रभावित हुआ मक्सी-गुना ट्रैक, कई ट्रेनें निरस्त, कुछ के बदले रूट

लोकायुक्त ने आवेदक को समझाइश देकर एक टेप टिकॉर्डर दिया और रिकॉर्ड हुई बातचीत के बाद रिश्वत की राशि लेकर क्लर्क रविंद्र के पास भेजा।  आज गुरुवार 25 अगस्त को हरी लाल शाह 20,000/- रुपये लेकर सिंगरौली कलेक्ट्रेट की भू अर्जन शाखा में पहुंचा और उसने वहां क्लर्क रविंद्र को रिश्वत की राशि दी।

ये भी पढ़ें – फरार लोकायुक्त इंस्पेक्टर गिरफ्तार, अप्राकृतिक सेक्स का मामला है दर्ज

जैसे ही आवेदक हरी लाल शाह ने क्लर्क रविंद्र को रिश्वत की राशि 20,000/- रुपये दी, इशारा मिलते ही पहले से तैयार लोकायुक्त पुलिस रीवा की टीम ने उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। आरोपी क्लर्क के खिलाफ लोकायुक्त पुलिस ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है।