करिश्मा कुदरत का : 48 साल से एक पल भी नहीं सोया रीवा का यह शख्स!

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। आप अगर एक दिन न सोएं तो क्या हालत हो जाती है..ज्यादातर लोगों ने यह महसूस किया होगा। लेकिन रीवा का एक शख्स ऐसा है जो एक-दो दिन, सप्ताह, माह या साल नहीं बल्कि 48 साल से सोया ही नहीं और बिल्कुल स्वस्थ है।

रेत ठेकेदार बोला- “मेरी गलती, आपके गुंडागर्दी राज में आकर मैंने काम किया”

करिश्मा कुदरत का : 48 साल से एक पल भी नहीं सोया रीवा का यह शख्स!

रीवा के रहने वाले इस शख्स का नाम है मोहन लाल द्विवेदी। वाकई में चिकित्सा जगत के लिए वे एक अजूबा है। मध्य प्रदेश राज्य प्रशासनिक सेवा से रिटायर हुए मोहनलाल के मुताबिक पिछले 48 साल से वो एक सेकेंड के लिए भी नहीं सोए। यहां तक कि पलक भी नहीं झपकी। उनके परिवार के लोग बताते हैं कि मोहनलाल के पिताजी भी बहुत कम सोते थे। मोहन लाल की पत्नी और बेटी को भी दो या तीन घंटे से ज्यादा नींद नहीं आती। हैरत की बात यह है कि इन सब के बावजूद इन लोगों को किसी किस्म की परेशानी नहीं है और वे आम लोगों की तरह जीवन जी रहे हैं।

मोहनलाल 1973 में व्याख्याता के पद पर नियुक्त हुए थे। उसके कुछ दिन बाद से ही उनकी नींद गायब हो गई। हालांकि इसके पहले भी उन्हें महज 2 या 3 घंटे की नींद आती थी। अपनी नींद ना आने की बीमारी का वह हर जगह इलाज करा चुके हैं। 2002 तक पूरे भारत में अनेक विशेषज्ञों को दिखाने के बाद थक हार चुके मोहनलाल ने अब इसे अपनी नियति मान लिया और डॉक्टरों को दिखाना ही बंद कर दिया। हालांकि डॉक्टरों के लिए मोहनलाल बड़ी चुनौती है जिनका यह मानना है कि कम से कम 6 घंटे और अधिकतम 8 घंटे की नींद किसी भी स्वस्थ मनुष्य के लिए बेहद जरूरी है और ऐसा न होने पर तरह-तरह की बीमारियां घर कर सकती है। लेकिन मोहनलाल इसका अपवाद है जो पूर्णता स्वस्थ रहकर अपना जीवन जी रहे हैं।